WTC Final: चेतेश्वर पुजारा के लिए बड़ा खतरा है न्यूजीलैंड का ये गेंदबाज, कर चुका है 4 बार आउट

0
3


WTC Final: चेतेश्वर पुजारा कैसे करेंगे ट्रेंट बोल्ट का सामना? (PC-AFP)

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की भूमिका बेहद अहम होने वाली है. उनकी बड़ी पारी खेलने की काबिलियत टीम इंडिया को चैंपियन बना सकती है लेकिन न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult) उनके लिए बड़ा खतरा हैं.

नई दिल्ली. टीम इंडिया की ‘दीवार’ चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने कई मौकों पर अपनी दमदार पारियों से विराट एंड कंपनी को जीत दिलाई है. मुश्किल से मुश्किल पिचों पर पुजारा क्रीज पर खूंटा गाड़ देते हैं और उसके बाद विपक्षी गेंदबाज थक कर चूर हो जाते हैं. चेतेश्वर पुजारा से ऐसे ही प्रदर्शन की आस वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी होगी. हालांकि पुजारा का क्रीज पर टिकना इतना भी आसान नहीं रहने वाला क्योंकि न्यूजीलैंड का एक गेंदबाज उनके लिए बड़ी मुश्किलें खड़ी कर सकता है.

ये गेंदबाज कोई और नहीं बल्कि बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult) हैं. ट्रेंट बोल्ट ने हमेशा चेतेश्वर पुजारा को परेशान किया है और वो उनके डिफेंस को भेदने में कामयाब भी रहे हैं. चेतेश्वर पुजारा और ट्रेंट बोल्ट का अबतक 17 पारियों में सामना हुआ है और बाएं हाथ का ये तेज गेंदबाज 4 बार ‘दीवार’ गिराने में कामयाब रहा है. पुजारा ने बोल्ट के खिलाफ 299 गेंदों में 133 रन बनाए हैं और उनका औसत 33.25 रहा है. पुजारा ने 4 बार बोल्ट को विकेट दिया है.

बोल्ट ने किया था टीम इंडिया को परेशान

बता दें साल 2020 में भारत के खिलाफ 2 टेस्ट मैचों की सीरीज में ट्रेंट बोल्ट ने टीम इंडिया को काफी परेशान किया था. बोल्ट ने 2 मैचों में 11 विकेट अपने नाम किये थे और उन्होंने 2 बार पुजारा को भी आउट किया था. गौर करने वाली बात ये है कि पुजारा दोनों ही बार बोल्ड हुए थे.वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में खराब प्रदर्शन

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के आंकड़ों पर नजर डालें तो चेतेश्वर पुजारा ने 30 से भी कम की औसत से रन बनाए हैं. पुजारा ने महज 29.21 की औसत से 818 रन बनाए हैं. पुजारा ने जनवरी 2019 के बाद से शतक नहीं लगाया है और साथ ही वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में वो 3 बार 0 पर आउट हो चुके हैं. साफ है पुजारा इस वक्त खराब फॉर्म में हैं और ट्रेंट बोल्ट फाइनल में उनके लिए सबसे बड़ा खतरा साबित हो सकते हैं.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here