UP News: अलीगढ़ में 100 ह‍िन्‍दू पर‍िवार क्‍यों हुए घर छोड़ने को मजबूर? घरों के बाहर ल‍िखा-‘यह मकान ब‍िकाऊ’

0
1


उत्‍तर प्रदेश के अलीगढ़ में 100 ह‍िंंदू पर‍िवार पलायन को मजबूर

Aligarh News: उत्‍तर प्रदेश के अलीगढ़ के टप्‍पल में जब बारात मुख्य मार्ग के पास से गुजर रही थी. इस दौरान समुदाय विशेष के कुछ लोगों ने बारात चढ़त का विरोध किया और मामले को बढ़ता देख पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने वैधानिक कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज कर लिया है.

उत्‍तर प्रदेश के अलीगढ़ जनपद में टप्पल थाना क्षेत्र के गांव नूरपुर में समुदाय विशेष के लोगों द्वारा बारात चढ़ने से रोकने पर नाराज करीब 100 हिंदू परिवार पलायन करने को मजबूर हैं. हिंदू परिवार की बारात में समुदाय विशेष के लोगों ने जमकर मारपीट की थी और मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसके बाद सभी लोगों ने अपने मकान के दरवाजों पर मकान बिकाऊ है लिखकर मकान बेचने की अपील की है.

एक व्यक्ति की तहरीर पर थाना टप्पल पुलिस ने समुदाय विशेष के 11 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है, हालांकि दूसरे पक्ष से भी तहरीर दी गई है. दोनों की तहरीर की जांच की जा रही है. मामला 26 मई की दोपहर का है नूरपुर गांव के एक निवासी अनुसूचित जाति के ओमप्रकाश की दो बिटिया की बारात चढ़ने से रोका और बारात का विरोध करते हुए बारातियों और गांव के हिंदुओं पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया था, जिसमें लगभग आधा दर्जन लोग घायल हो गए.

बताया जा रहा है क‍ि बारात मुख्य मार्ग पर मस्जिद के पास से गुजर रही थी. उसी दौरान समुदाय विशेष के कुछ लोगों ने बारात चढ़त का विरोध किया था. मामला बढ़ता देख पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने वैधानिक कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज कर लिया है.

Hindu family, Bulandshahar, Aligarh Viral News, UP Viral News, Uttar Pradesh News, UP Newsगांव में रहने वाली ज्ञानवती ने बताया क‍ि बारात को न‍िकलने नहीं देते हैं. उन्‍होंने कहा क‍ि वह अपनी इच्‍छा के अनुसार घर बेच रहे हैं. वहीं मुन्‍नी ने बताया क‍ि 26 तारीख को बारात आई. गांव से एंट्री होने वाले रास्‍ते से ये लोग बारात नहीं न‍िकलने देते हैं. उन्‍होंने कहा क‍ि हम लोग उनसे पहले से यहां बसे हुए हैं. ये लोग तो बाद में आएं हैं. अब बारात आती है तो ये लोग मार प‍िटाई करते हैं और लूटपाट करते हैं. पुल‍िस को सूचना दी है लेक‍िन कोई कार्रवाई नहीं की गई. जब ये नहीं रहने देंगे तो यहां रहकर क्‍या करेंगे.

वहीं गांव में ही रहने वाले गौरी शंकर ने बताया क‍ि जब भी हमारी बेट‍ियों की बारात चढ़ती है तो यह लोग उसे न‍िकलने के ल‍िए रास्‍ता नहीं देते हैं. हमारे ख‍िलाफ जात‍िसूचक शब्‍दों का इस्‍तेमाल करते हैं और शाद‍ियों की गाड़ी पर हमला करते हैं. उन्‍होंने कहा क‍ि इन्‍होंने मेरा मोबाइल और अंगूठी छीन ली थी लेक‍िन वो आजतक वापस नहीं मिली है.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here