Advertisement

Podcast: भारत-चीन के तल्ख रिश्ते, गुर्जर आंदोलन और कोरोना वैक्सीन… |


नई दिल्ली. हमारे श्रोताओं को शारदीय नवरात्र की ढेर सारी शुभकामनाएं. आज शारदीय नवरात्र का दूसरा दिन है. इस दिन मां दुर्गा के ब्रह्मचारिणी रूप की पूजा की जाती है. माना जाता है कि मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करने से तप, शक्ति, त्याग, सदाचार, संयम और वैराग्य की वृद्धि होती है और शत्रुओं का नाश होता है. हिंदू धर्म शास्त्रों में मां ब्रह्मचारिणी की पूजा का विशेष महत्व बताया गया है.

आज की पहली खबर कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी जंग को लेकर. आज कोरोना वैक्सीन को लेकर एक अच्छी खबर सामने आई है. खबर है कि भारत में रूसी कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक-V (Russia Sputnik V Coronavirus Vaccine) के दूसरे व तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल जल्द शुरू होगा. इस ट्रायल के लिए शनिवार को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने भारतीय दवा निर्माता डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज को मंजूरी दे दी है. यह मंजूरी किस तरह मिली – यह जानने के लिए हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉट कॉम पूरी खबर पढ़ें.

विदेश मंत्री एस जयशंकर (External Affairs Minister S Jaishankar) ने शनिवार को कहा कि एक्चुअल लाइन ऑफ कंट्रोल यानी वास्तविक नियंत्रण रेखा पर शांति और अमन-चैन गंभीर रूप से बाधित हुए हैं और जाहिर तौर पर इससे भारत और चीन के बीच संपूर्ण रिश्ते प्रभावित हो रहे हैं. जयशंकर ने यह बयान पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच पांच महीने से अधिक समय से चल रहे सीमा गतिरोध की पृष्ठभूमि में दिए हैं. आपको बता दें कि पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन ने अपने-अपने 50 हजार से अधिक सैनिक तैनात कर रखे हैं. जयशंकर ने यह बात अपनी पुस्तक पर आयोजित वेबिनार में कही.

बिहार विधानसभा चुनावों में बीजेपी और जेडीयू के बीच आई दरार की अटकलों पर गृह मंत्री अमित शाह ने पूर्ण विराम लगा दिया है. बिहार चुनाव पर अमित शाह ने शनिवार को कहा, ‘जो कोई भी भ्रांतियां फैलाने का प्रयास कर रहा है. मैं आज इस पर बड़ा फुल स्‍टॉप लगाना चाहता हूं. नीतीश कुमार ही बिहार के अगले मुख्‍यमंत्री होंगे.’ शाह ने कहा कि देश के साथ-साथ बिहार में भी मोदी लहर है और इससे गठबंधन सहयोगियों को समान रूप से मदद मिलेगी. शाह ने कहा, नीतीश हमारे पुराने साथी हैं, गठबंधन तोड़ने का कोई कारण नहीं है. शाह ने ये बातें Network18 ग्रुप के एडिटर-इन-चीफ राहुल जोशी को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहीं. इस इंटरव्यू की खास बातें आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉट कॉम विस्तार से पढ़ सकते हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव प्रचार करने मैदान में उतरने वाले हैं. वे बिहार में कुल बारह चुनावी रैलियां कर एनडीए उम्मीदवारों के लिए जनता से वोट मांगेंगे. इस 28 अक्टूबर को प्रधानमंत्री मुजफ्फरपुर में चुनावी सभा को संबोधित कर बीजेपी-जेडीयू का प्रचार करेंगे. प्रधानमंत्री की चुनावी जनसभा को देखते हुए बीजेपी ने इसके लिए तैयारियां जोर-शोर से शुरू कर दी हैं. बीजेपी के राष्ट्रीय मंत्री हरीश द्विवेदी ने शनिवार को मुजफ्फरपुर पहुंचकर पार्टी के स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ तैयारियों की समीक्षा की.

आरक्षण के मुद्दे पर राजस्थान में गुर्जर एक बार फिर आंदोलन की राह पर हैं. शनिवार को भरतपुर के अड्डा गांव में गुर्जरों की महापंचायत हुई. इस बीच महापंचायत का आंदोलन उग्र होने की आंशका में भरतपुर, करौली और सवाई माधोपुर में रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी. इसके अलावा सुरक्षा के लिए अतिरिक्त कंपनियां गुर्जर बहुल इलाकों में भेजी गई हैं. आंदोलनकारियों के रेलवे ट्रैक जाम करने या नुकसान पहुंचाने की आंशका को देखते हुए रेलवे ने आरपीएफ को ट्रैक की सुरक्षा में तैनात किया है.

मध्य प्रदेश के गुना में एक महिला ने रेप और ब्लैकमेलिंग से तंग आकर एक युवक का कत्ल कर दिया. महिला इस शख्स से इतना तंग आ गई थी कि उससे उस युवक पर चाकू से 25 वार किए. महिला का आरोप है कि युवक तब से उसके साथ रेप कर रहा था जब से वह नाबालिग थी. वारदात की रात भी युवक ने महिला के साथ जबरदस्ती करनी चाही. युवक नशे में था. युवक की इस हरकत से महिला के सब्र का बांध टूट गया और वह युवक को तब तक चाकू मारती रही, जब तक उसकी जान नहीं निकल गई. इस हत्या के बाद महिला ने खुद ही पुलिस को सूचना दी और अपना जुर्म कबूल कर लिया.

और अब एक खबर ईमानदारी की मिसाल की. आप जेब से गरीब हों और दिल से अमीर, तो भी तीन लाख की रकम बड़ी होती है, मगर वह आपके ईमान को डिगा नहीं सकती. यह बात साबित की मंडी शहर के ऑटोचालक ने. इस ऑटोचालक का नाम है पितांबर सिंह. मंडी (Mandi) शहर में ऑटो चलाया करते हैं पितांबर सिंह. दो दिन पहले यानी 15 अक्टूबर को भी वे रोज की तरह अपना ऑटो लेकर सड़क पर थे. तभी एक बुजर्ग सवारी पितांबर के ऑटो पर बैठी. उनके हाथ में एक बैग था. वह इस ऑटो से बाजार की तरफ गए. वहां पितांबर को उन्होंने ऑटो के किराए का पैसा दिया और बाजार की ओर चले गए. थोड़ी देर बाद पिताबंर की निगाह पिछली सीट पर गई, जहां थोड़ी देर पहले एक बुजुर्ग सवारी बैठी थी. पितांबर ने देखा कि उस सीट पर एक बैग पड़ा है. पितांबर समझ गए कि यह बैग उन्हीं बुजुर्ग सवारी का है. पितांबर ने बैग खोलकर देखा तो उसमें नोट भरे पड़े थे. वह बड़ी उलझन में पड़ गए कि आखिर उन बुजुर्ग सवारी को भला वह कहां ढूंढ़ें. कुछ देर विचार करने के बाद पितांबर सिटी पुलिस चौकी मंडी पहुंच गए. वहां उन्होंने पूरी बात पुलिसवालों को बताई और रुपये से भरा बैग पुलिस के हवाले कर चलते बने.

इस बीच, वह बुजुर्ग सवारी परेशान हुई कि उनका बैग ऑटो में छूट गया. उन्होंने तत्काल ऑटोचालक की तलाश की. जब वह नहीं मिला तो वह हताश हो, घर लौट गए. इधर पुलिस भी परेशान रही. वह भी उस बुजुर्ग सवारी को ढूंढ़ती रही. दो दिन तक बैग थाने में पड़ा रहा. दो दिन बाद इत्तफाकन एक शख्स अपने बेटे के साथ सिटी पुलिस चौकी पहुंचा और अपने गुम हो चुके बैग की रिपोर्ट लिखवाई. इस शख्स ने अपना नाम योगराज बताया. बैग गुम होने की पूरी कहानी सुनाई. उन्होंने बताया कि वे बैंक से रुपये निकाल कर ऑटो में बैठे थे, फिर बाजार तक गए और अपनी चूक की वजह से बैग उन्होंने ऑटो में ही छोड़ दिया. उन्होंने बैग में रखी गई रकम भी सही बताई. पुलिसवालों ने पूरी तरह पूछताछ की और जब इत्मीनान हो गए कि ऑटोचालक द्वारा जमा कराया गया रुपयों से भरा बैग इन्हीं योगराज का है, तो उन्होंने ऑटोचालक को बुलवाया और उसके हाथों यह राशि योगराज को लौटा दी.

ये खबरें आप विस्तार से पढ़ना चाहें तो हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉट कॉम पर पढ़ सकते हैं.





Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement