IPL 2020: किंग्स इलेवन पंजाब टूर्नामेंट से बाहर, चेन्नई सुपरकिंग्स ने 9 विकेट से हराया

0
2


IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को हराया

चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) पहले ही प्लेऑफ की रेस से बाहर थी लेकिन उसने रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के भी सपने तोड़ दिये

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 1, 2020, 7:23 PM IST

नई दिल्ली. आईपीएल 2020 के 53वें मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स  (Chennai Super Kings) ने किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) को एकतरफा मुकाबले में 9 विकेट से हरा दिया. इस हार के साथ ही चेन्नई ने पंजाब की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदें भी खत्म कर दी. किंग्स इलेवन पंजाब को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए हर हाल में ये मुकाबला जीतना था लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. अबु धाबी में खेले गए इस मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 153 रन बनाए लेकिन चेन्नई ने 7 गेंद पहले ही आसानी से लक्ष्य को हासिल कर लिया. चेन्नई के लिए ऋतुराज गायकवाड़ ने नाबाद 62 रनों की पारी खेली, डुप्लेसी ने भी 48 रन बनाए. रायडू 30 रन पर नाबाद रहे.

चेन्नई की अच्छी बल्लेबाजी
154 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपरकिंग्स को उसके ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ और फाफ डुप्लेसी ने गजब शुरुआत दिलाई. दोनों बल्लेबाजों ने खुलकर बल्लेबाजी करते हुए पावरप्ले में 57 रन ठोक डाले. गायकवाड़ और डुप्लेसी ने महज 32 गेंदों में अर्धशतकीय साझेदारी की. इस साझेदारी को 10वें ओवर में क्रिस जॉर्डन ने तोड़ा. डुप्लेसी 34 गेंदों में 48 रन बनाकर आउट हुए. हालांकि इसके बाद भी गायकवाड़ क्रीज पर डटे रहे और उन्होंने 38 गेंदों में अपना लगातार तीसरा अर्धशतक जमाया. गायकवाड़ ने रायडू के साथ नाबाद 72 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को जीत दिला दी. रायडू ने भी नाबाद 30 रनों की पारी खेली.

पंजाब के स्टार फ्लॉपमयंक अग्रवाल और कप्तान लोकेश राहुल ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिये उतरे पंजाब को शानदार शुरुआत दिलायी. मयंक ने दीपक चाहर के खिलाफ दो चौके लगाकर टीम में वापसी का जश्न मनाया. कप्तान राहुल ने इसी गेंदबाज के खिलाफ तीसरे ओवर में प्वाइंट के ऊपर से आकर्षक छक्का लगाया. राहुल ने इसके बाद शारदुल ठाकुर का स्वागत पांचवें ओवर लगतार दो चौके से किया, लेकिन एनगिडी ने अगले ओवर में मयंक को बोल्ड चेन्नई को पहली सफलता दिलायी. मयंक ने 15 गेंद में पांच चौको की मदद से 25 रन बनाने के साथ पहले विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी भी की.

पावर प्ले में पंजाब का स्कोर एक विकेट पर 53 रन था लेकिन इसके बाद गेंदबाजों ने रन प्रवाह पर अंकुश लगा दिया ओर पंजाब ने इस बीच राहुल, निकोलस पूरन और क्रिस गेल के विकेट भी गंवा दिये. एनगिडी ने नौवें ओवर में राहुल को बोल्ड कर 27 गेंद में उनकी 29 रन की पारी को खत्म किया तो वही शारदुल ने 11वें ओवर में पूरन (छह गेंद में दो रन) को विकेटकीपर महेन्द्र सिंह धोनी के हाथों कैच कराया.

शानदार लय में चल रहे क्रिस गेल (19 गेंद में 12 रन) भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे. अनुभवी इमरान ताहिर की फिरकी पर पगबाधा होने के बाद उन्होंने रिव्यू भी गंवा दिया. इस समय टीम का स्कोर 11.5 ओवर में चार विकेट पर 72 रन था. मंदीप सिंह ने 14वें ओवर में दीपक चाहर की पहली गेद पर चौका लगाया जो सात ओवर के बाद टीम की पहला बाउंड्री थी.

हुड्डा की बेहतरीन बल्लेबाजी

हुड्डा ने इसके बाद इमरान ताहिर के खिलाफ 16वें ओवर में कवर्स के ऊपर से शानदार छक्का लगाया लेकिन जडेजा ने अगले ही ओवर में मंदीप (14) को बोल्ड कर पांचवें विकेट के लिए 36 रन की साझेदारी को तोड़ा. जिम्मी नीशाम (2) नहीं चल पाये लेकिन हुड्डा इससे प्रभावित नहीं दिखे. उन्होंने एनगिडी के इस ओवर में दो छक्के लगाये. उन्होंने 19वें ओवर की तीसरी गेंद पर एक रन लेकर 26 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया. हुड्डा ने एनगिडी के आखिरी ओवर में भी एक छक्का जड़ा. उन्होंने जोर्डन के साथ सातवें विकेट के लिए 40 रन की अटूट साझेदारी भी की जिसमें जॉर्डन का योगदान महज चार रन का था. हालांकि हुड्डा की अच्छी बल्लेबाजी भी पंजाब को नहीं बचा पाई.





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here