Death Anniversary: बॉलीवुड की पसंदीदा दादी जोहरा सहगल को जब लगता था, वे बदसूरत हैं

0
3


नई दिल्ली: जोहरा सहगल (Zohra Sehgal) ने करण जौहर की फिल्म ‘कभी खुशी कभी गम’ (Kabhi Khushi Kabhie Gham) में एक बूढ़ी दादी का रोल निभाया था. नई पीढ़ी के ज्यादातर लोग शायद उन्हें इसी रूप में जानते हों, आखिर वे बॉलीवुड की सबसे पसंदीदा दादी थीं. जब बॉलीवुड में खूबसूरत चेहरों को तरजीह मिलती थी, तब जोहरा ने इससे प्रभावित हुए बिना अपनी एक खास पहचान बनाई और अपनी शख्सियत से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया. जोहरा सहगल ने कभी किसी इंटरव्यू में कहा था, ‘चांदनी रात में गधा भी खूबसूरत दिखता है. तुम्हें मुझे तब देखना चाहिए था, जब मैं नौजवान और बदसूरत थी.’ लोग उनके इसी मजाकिया अंदाज और जिंदादिली के कायल थे. आइए आज एक्ट्रेस की पुण्यतिथि पर उनसे जुड़े खास किस्सों के बारे में जानें.

जोहरा सहगल का जन्म 1912 में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक कुलीन मुस्लिम परिवार में हुआ था. उन्हें उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए लाहौर के क्वीन मैरी कॉलेज भेजा गया था. 1935 में, सहगल जापान में उदय शंकर की नृत्य मंडली में शामिल हो गईं. उन्हें भले अलग दिखने की वजह से कभी लीड डांसर के तौर पर नहीं चुना गया, लेकिन उन्होंने डांस को बड़ी गहराई से आत्मसात किया. एक इंटरव्यू में सहगल ने कहा था, ‘मुझे लीड रोल कभी नहीं मिले, क्योंकि मैं सुंदर नहीं थी, लेकिन मैं वहीं जूझती रही.’

(फाइल फोटो)

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जोहरा पर लिखी किताब ‘जोहरा सहगल: फैटी’ में सहगल की बेटी किरण सहगल ने कहा है, ‘सहगल अपनी बहन की लोकप्रियता और आकर्षण से ईर्ष्या करती थीं. इस कुंठा की वजह से, जोहरा सहगल आकर्षक दिखने और ध्यान आकर्षित करने के लिए बहुत कोशिश करती थीं.’

किरण ने किताब में लिखा हैं, ‘एक बार दिल्ली में हमें एक रिसेप्शन में आमंत्रित किया गया था. शाम बहुत सुखद थी, बहुत सारे दोस्तों से मिलना था, जिनसे हम काफी समय से मिले नहीं थे. जब हम घर लौटे, तो मैंने कहा, ‘ओह, कितनी प्यारी शाम थी!’ जिस पर उन्होंने तुरंत जवाब दिया, ‘क्या प्यारी शाम, मुझ पर तो किसी ने ध्यान ही नहीं दिया! मैं बस हंस पड़ी, यह बहुत मजेदार था.’

ये भी पढ़ें: दिलीप कुमार से अक्षय कुमार तक, बॉलीवुड के वे 29 सितारे जिनका असली नाम पहले कुछ और था

जोहरा डांस और थियेटर के अलावा फिल्मों में अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रही थीं. वे टेलीविजन सीरीज ‘डॉक्टर हू’ (Dr. Who) और फिल्म ‘द ज्वैल इन द क्राउन’ (The Jewel in the Crown) में अपनी शानदार अदाकारी की वजह से दुनियाभर में प्रसिद्ध हुई थीं. 10 जुलाई 2014 को कार्डिएक अरेस्ट के चलते उनका देहांत हो गया था.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here