Bihar Election 2020: बागी तेवर दिखाने वाले 15 नेताओं पर गिरी गाज, JDU से 6 साल के लिए निष्कासित

0
2


जेडीयू ने बड़ी कार्रवाई की है.

Bihar Assembly Election 2020: पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वाले 15 नेताओं को जेडीयू (JDU) ने 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है. ये नेता पार्टी से बगावत कर दूसरी पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं.

पटना. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Election) में बागी तेवर दिखाने वाले नेताओं पर जेडीयू ने कार्रवाई शुरू कर दी है. पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वाले 15 नेताओं को जेडीयू (JDU) ने 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया है. पार्टी लाइन का मानना है कि ये नेता पार्टी से बग़ावत कर दूसरे पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं. साथ ही कई दूसरे पार्टी को मदद भी कर रहे हैं. जेडीयू ने रामेश्वर पासवान, प्रमोद चंद्रवंशी , अरुण कुमार , तजम्मल खां, अमरेश चौधरी, शिवशंकर चौधरी, सिंधु पासवान, करतार सिंह, राकेश रंजन, ददन पहलवान, सुमित सिंह, भगवान सिंह कुशवाहा, रण विजय सिंह, कंचन गुप्ता और मुंग़ेरी पासवान को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है.

इधर,  बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार का दौर शुरू हो चुका है. महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने भी अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है. राजद ने इस सूची में 30 नेताओं को जगह दी है, जिनको बिहार की 243 सीटों पर महागठबंधन और राजद के लिए प्रचार करना है. स्टार प्रचारकों की लिस्ट में सबसे पहला नाम बिहार के पूर्व सीएम और लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी का है. इसके अलावा उनके परिवार से दोनों बेटे तेजस्वी प्रसाद यादव और तेज प्रताप यादव समेत डॉक्टर मीसा भारती को भी स्टार प्रचारकों की सूची में जगह मिली है.

ये भी पढ़ें: Bihar Election 2020: विरोध के बाद इस JDU प्रत्याशी ने लौटाया टिकट, चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान

डिजिटल प्रचारबिहार चुनाव 2020 अब बेहद करीब है. ऐसे में सभी पार्टियां जोर शोर से मतदाताओं तक पहुंच कर उन्‍हें लुभाने में जुटी हैं. प्रत्‍याशियों का ऐलान हो रहा है. साथ ही अब राजनीति‍क दल डिजिटल माध्‍यम से भी चुनाव प्रचार करने लगे हैं. ऐसा ही एक वीडियो सॉन्‍ग बनाकर बीजेपी ने ट्विटर पर शेयर किया. इसका टाइटल रखा ‘बिहार में ई बा’  मतलब बिहार में यह हुआ. इसमें बिहार में अब तक एनडीए सरकार में हुए विकास कार्यों का दावा किया गया है. लेकिन कुछ देर में ही ‘बिहार में ई बा’ वीडियो ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा. कुछ लोग इसके समर्थन में आए तो कुछ नीतीश कुमार  की सरकार को घेर रहे हैं. उनके साथ ही तेजस्‍वी यादव और तेज प्रताप यादव भी लोगों के निशाने पर हैं. बिहार चुनाव इस बार तीन चरणों में होने हैं. इनकी शुरुआत 28 अक्‍टूबर से हो रही है. साथ ही 10 नवंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे. ‘बिहार में ई बा’ ट्रेंड पर एक यूजर ने लॉकडाउन के दौरान घर लौट रहे बिहार के लोगों की फोटो शेयर कर सरकार पर निशाना साधा.





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here