Bihar Assembly Election : दूसरे चरण के लिए लोजपा ने जारी की 53 उम्मीदवारों की लिस्ट

0
1


लोजपा ने दूसरे चरण के लिए 53 उम्मीदवारों के नाम जारी किए.

दूसरी लिस्ट में मधुबनी से अरविंद कुमार को लोजपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है. साहेबगंज से कृष्ण कुमार सिंह, वैशाली से अजय कुमार कुशवाहा, खगड़िया से रेणु कुमारी, राजगीर (सु.) से मंजू देवी पर लोजपा ने दांव खेला है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 16, 2020, 7:32 PM IST

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के उठापटक के बीच लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने अपने उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है. दूसरे चरण के चुनाव के लिए जारी लिस्ट में लोजपा ने कुल 53 उम्मीदवारों के नाम जारी किए हैं. इससे थोड़ी देर पहले भाजपा के साथ हुए आरोप-प्रत्यारोप के बीच लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने कहा था कि उनकी पार्टी बीजेपी के खिलाफ अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी. इस दूसरी लिस्ट में मधुबनी से अरविंद कुमार को लोजपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है. साहेबगंज से कृष्ण कुमार सिंह, वैशाली से अजय कुमार कुशवाहा, खगड़िया से रेणु कुमारी, राजगीर (सु.) से मंजू देवी पर लोजपा ने दांव खेला है.

इन 53 प्रत्याशियों की लिस्ट यहां देखें

लोक जनशक्ति पार्टी के उम्मीदवारों के नाम.

लोक जनशक्ति पार्टी के उम्मीदवारों के नाम.
जारी की गई लिस्ट का दूसरा पन्ना.

जारी की गई लिस्ट का दूसरा पन्ना.

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर जारी है. राज्‍य की सियासी सरगर्मियां अब चरम पर हैं. मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार और तेजस्‍वी यादव समेत बिहार के तमाम बड़े नेताओं की ताबड़तोड़ चुनावी जनसभाएं चल रही हैं. इस बीच केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Union Minister Prakash Javadekar) ने चिराग पासवान पर बड़ा आरोप लगाया है. प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘चिराग पासवान ने बिहार में अलग राह पकड़ी है. वह बीजेपी के वरिष्‍ठ नेताओं का नाम लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं. हमारी कोई बी और सी टीम नहीं है. एनडीए को इस बार स्‍पष्‍ट बहुमत मिलेगा.’ प्रकाश जावड़ेकर ने चिराग पासवान की पार्टी को ‘वोटकटवा’ कहा है.

इससे पहले सुशील कुमार मोदी ने भी चिराग पर निशाना साधा था. सुशील कुमार मोदी ने लोजपा को लेकर कड़ा संदेश दिया था. उन्‍होंने कहा कि हमारा गठबंधन लोकसभा चुनाव में लोजपा (LJP) के साथ था लेकिन विधानसभा में नहीं है. सुशील मोदी ने कहा कि यह कोई आवश्यक नहीं है कि केंद्र में अगर समझौता है तो राज्य में भी होगा. उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि लोगों को भ्रम में नहीं रहना चाहिए. जो लोग भ्रम पैदा कर रहे हैं वह जल्द खत्म होगा.





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here