Big news: रीट प्रमाण-पत्र की वैधता में नहीं होगा बदलाव, शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद डोटासरा ने दिया बड़ा बयान

0
6


राजनीतिक नियुक्तियों और कैबिनेट विस्तार के सवाल पर
डोटासरा मौन साध गए.

Validity of REET Certificate: रीट प्रमाण-पत्र की वैधता को लेकर शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि इसकी अवधि को नहीं बढ़ाया जायेगा. इसे तीन साल ही रखा जायेगा. इससे ज्यादा से ज्यादा अभ्यर्थियों को लाभ मिलेगा.

जयपुर. रीट प्रमाण-पत्र (REET Certificate) की वैधता को लेकर शिक्षा राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) ने बड़ा बयान दिया है. डोटासरा ने कहा है कि पहले बीजेपी के शासन में राजस्थान में इसकी वैधता पांच साल थी. फिर इसे तीन साल कर दिया गया था. डोटासरा ने कहा कि राजस्थान में रीट प्रमाण-पत्र की वैधता तीन साल कर रखी है और इसे आगे भी बरकरार रखा जाएगा. इससे ज्यादा से ज्यादा अभ्यर्थियों को लाभ मिलेगा.

जयपुर में राजकीय महात्मा गांधी उच्च माध्यमिक विद्यालय गांधीनगर के विजिट के दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए डोटासरा ने कहा कि रीट के सर्टिफिकेट की वैधता पर संकेत के मुताबिक इसकी वैधता बढ़ाने पर अभी विचार नहीं होगा. वहीं अब केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने टेट प्रमाण-पत्र की वैधता आजीवन कर दिया है, लेकिन अंतिम फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ा है.

परीक्षाओं में टकराव का एग्जामिन करवाया जायेगा

रीट परीक्षा के व्याख्याता परीक्षा के टकराव की बात पर उन्होंने कहा की इसे एग्जामिन करवा लिया जाएगा. शिक्षा विभाग में कुछ दिनों पहले प्रथम श्रेणी व्याख्याताओं के तबादलों का मामले सामने आए थे. इस पर मंत्री डोटासरा ने कहा की सोशल मीडिया पर भ्रम फैलाया गया. केवल लक्ष्मणगढ़ के ही नहीं बल्कि प्रदेशभर के शिक्षकों की परिवेदना ली गई थी. परिवेदना के आधार पर प्रदेशभर में गिने-चुने तबादले किए गए थे. किसी क्षेत्र विशेष के तबादले के ही नहीं किए गए हैं.कैबिनेट विस्तार के सवाल पर साधा मौन

राजनीतिक नियुक्ति के मामले पर पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि पार्टी में नियमित रूप से कार्यकर्ताओं का मान सम्मान होगा. हालांकि वे इस दौरान कैबिनेट विस्तार के सवाल पर मौन साध गए. मीडिया के बार बार पूछने पर भी इस मामले में कोई जवाब नहीं दिया.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here