7 जून तक नहीं खुलेंगे दिल्ली के बाजार: अनॉकिंग प्रोसेस को व्यापारियों ने ‘अतार्किक’ बताया, CM से फैसले पर दोबारा विचार करने का अनुरोध किया

0
2


  • Hindi News
  • Business
  • Trader Body CAIT Term Delhi’s Unlocking Process ‘irrational’, Request CM To Reconsider The Decision

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • ट्रेडर्स ने यूपी में संक्रमण दर अधिक होने के बावजूद वर्किंग आवर में सभी व्यावसायिक गतिविधियों को खोलने की अनुमति का हवाला दिया
  • दिल्ली की अनलॉक प्रक्रिया के पहले चरण में केवल निर्माण गतिविधियों और कारखानों को कामकाज शुरू करने की इजाजत दी गई है

दिल्ली में कल से अनलॉक प्रक्रिया शुरू हो रही है, लेकिन यहां के करीब 15 लाख व्यापारियों को कोई फायदा नहीं होगा। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने अनलॉक प्रक्रिया शुरू करने के दिल्ली सरकार के निर्णय को अतार्किक बताया है। उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से अपने फैसले की समीक्षा करने का अनुरोध किया है।

गौरतलब है कि दिल्ली के व्यापारियों को व्यावसायिक गतिविधियां शुरू करने की अनुमति नहीं है, इसलिए 7 जून, सुबह 5 बजे तक यहां के बाजार बंद रहेंगे। अनलॉक प्रक्रिया के पहले चरण में केवल निर्माण गतिविधियों और कारखानों को कामकाज शुरू करने की इजाजत दी गई है।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने सरकार से पूछा है कि बिना बाजार खोले, आवश्यक निर्माण सामग्री और दूसरी वस्तुओं के अभाव में निर्माण गतिविधियाँ कैसे संचालित होंगी। उन्होंने यह भी कहा कि इसके अलावा, दिल्ली में बाजार बंद होने से कारखानों को उत्पादन के लिए कच्चा माल नहीं मिल पाएगा।

खंडेलवाल ने कहा कि पड़ोसी राज्य यूपी में संक्रमण दर काफी अधिक होने के बावजूद कल से काम के घंटों के दौरान सभी व्यावसायिक गतिविधियों को खोलने की अनुमति दी है। लेकिन दिल्ली में संक्रमण दर लगभग 1.5% है, रोजाना 900 से कम नए केस सामने आ रहे हैं। फिर भी दिल्ली को बेतुके चरणों में खोला जा रहा है।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री ने कहा कि कोविड सेफ्टी प्रोटोकॉल का पालन करते हुए दिल्ली के व्यापार को थोक और खुदरा में वर्गीकृत किया जा सकता था और बाजारों को तय समय-सीमा के साथ खोला जा सकता था। खंडेलवाल ने 7 जून से दुकानें खोलने की अनुमति मिलने की उम्मीद जताई है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here