4 बहनों के इकलौते भाई ने किया सुसाइड: युवक के आत्महत्या करने का कारण पता नहीं चला, न ही सुसाइड नोट मिला;जिस घर में पेंट का काम चल रहा था, उसकी चौथी मंजिल में लगाया फंदा

0
2


चंडीगढ़15 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस का कहना है कि मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। संजीव आठवीं पास था। एक तरफ जहां परिवार में मातम का माहौल है, वहीं लोग युवक के आत्महत्या करने से सकते हैं।

मनीमाजरा की इन्दिरा कॉलोनी में चार बहनों के इकलौते भाई ने फंदा लगाकर जान दे दी। इंदिरा कॉलोनी में रहने वाले 17 साल के संजीव नामक युवक ने फंदा लगाकर जान दे दी है। पुलिस अब मामले की जांच कर रही है। पुलिस की ओर से बताया गया है कि संजीव के पिता के दो मकान हैं। एक मकान में पेंट का काम हो रहा था। उसी मकान के ऊपरी माले में संजीव ने फंदा लगाया है। संजीव के परिवार वालों ने उसे फंदे पर झूलते देखा और उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। संजीव आठवीं पास था। एक तरफ जहां परिवार में मातम का माहौल है, वहीं लोग युवक के आत्महत्या करने से सकते हैं।

इधर, राम दरबार में 25 साल की महिला ने लगाया फंदा

इधर, राम दरबार में एक महिला ने फंदा लगा लिया। मामले में सेक्टर 31 थाना पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। मृतका की पहचान 25 साल की ममता के रूप में हुई है। पुलिस को ममता के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। हालांकि, प्राथमिक स्तर पर इसे सुसाइड ही माना जा रहा है। ममता अपने पति और दो बच्चों के साथ रह रही थी। वह UP की रहने वाले थी। घटना का पता लगने के बाद सूचना पुलिस को दी गई। जिस पर उसे इलाज के लिए 32 अस्पताल लेकर जाया गया। जहां डॉक्टरों ने ममता को मृत घोषित कर दिया। प्राथमिक स्तर पर ममता के सुसाइड करने के कारण का खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस बुधवार को शव का पोस्टमार्टम करवा उसे घरवालों को सौंप देगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here