Advertisement

20 वर्षीय आईटीआई स्टूडेंट को लगा करंट,इलाज के दौरान पीजीआई में तोड़ा दम; पूर्व डिप्टी मेयर का आरोप: बिजली विभाग की लापरवाही के चलते हुआ हादसा


चंडीगढ़एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

दो नवंबर को मृतक मनदीप का जन्मदिन था जिसे लेकर वह जन्मदिन मनाने की पूरी तैयारियां कर रहा था। होनी को कुछ और ही मंजूर था। उधर परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है। घर में मातम का माहौल पूरी तरह से छाया हुआ है। मनदीप घर में सबसे छोटा और अपने पेरेंट्स का लाडला पुत्र था।

  • मृतक की पहचान सेक्टर 56 के रहने वाले 20 साल के मनदीप के रूप में हुई है

20 साल के आईटीआई स्टूडेंट की करंट लगने से मौत हो गई है। हालांकि घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई लेकिन गंभीर हालत के चलते दोस्त इलाज के लिए उसे पुलिस के पहुंचने से पहले ही मोहाली फेज 6 स्थित सरकारी अस्पताल में ले गए। यहां से उसे पीजीआई रेफर कर दिया गया जहां रविवार देर रात डेढ़ बजे उसने दम तोड़ दिया। मृतक की पहचान सेक्टर 56 के रहने वाले 20 साल के मनदीप के रूप में हुई है जो मोहाली के एक कॉलेज से आईटीआई कर रहा था। वहीं पूर्व डिप्टी मेयर दर्शन कुमार गर्ग ने हादसे में मनदीप की हुई मौत पर परिवार वालों से गहरा दुख प्रकट किया है। इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि यह हादसा कॉर्पोरेशन के बिजली विभाग की लापरवाही के चलते हुआ है क्योंकि डिवाइडिंग रोड पर अगर ग्रिल लगी होती तो और तारें खुली पड़ी न होतीं और यह हादसा भी न होता। उन्होंने मांग की है कि शहर में कहीं भी सड़क क्रॉस करने के लिए अगर ग्रिल टूटी पड़ी है या नहीं है उसे लगाया जाए और बिजली की तारें जो खुली पड़ी हैं उन्हें भी ठीक किया जाए ताकि भविष्य में ऐसा कोई हादसा न हो सके।

मनदीप अपने परिवार सहित सेक्टर 56 में रहता था। लॉकडाउन के दौरान स्कूल/ कॉलेज बंद होने के कारण वह कुछ समय से प्राइवेट जॉब कर रहा था। रविवार शाम साढ़े 5 बजे वह अपने दो दोस्तों के साथ मंडी जीरी ग्राउंड के पास फुटबॉल खेलने के लिए जा रहा था। मृतक मनदीप अपने दोस्तों से सबसे आगे चल रहा था। जैसे ही वह मलोया / 56 डिवाइडिंग रोड के पास पहुंचे तो सड़क के बीच में बिजली के खंभे को पकड़ कर सड़क क्रॉस करने लगा तो नीचे कुछ खुली पड़ी बिजली की तार में करंट होने के चलते मनदीप उसकी चपेट में आ गया। इसके बाद वहां हड़कंप मच गया। तुरंत उसके दोस्तों ने अपने अन्य दोस्तों की मदद से मनदीप को एक्टिवा पर मोहाली के फेज 6 के सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने उसकी हालत को गंभीर देखते हुए उसे रविवार रात करीब 8 बजे पीजीआई रेफर कर दिया। यहां उसने इलाज के दौरान रविवार देर रात करीब 1:30 बजे दम तोड़ दिया। वही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की पड़ताल करते हुए शव को अपने कब्जे में ले लिया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता लग पाएगा। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। वहीं दो नवंबर को मृतक मनदीप का जन्मदिन था जिसे लेकर वह जन्मदिन मनाने की पूरी तैयारियां कर रहा था। होनी को कुछ और ही मंजूर था। उधर परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है। घर में मातम का माहौल पूरी तरह से छाया हुआ है। मनदीप घर में सबसे छोटा और अपने पेरेंट्स का लाडला पुत्र था।



Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement