2 साल बाद टेस्ट टीम में जगह, 50 ओवर में 14 विकेट लेने वाले पाक गेंदबाज को मिला बड़ा इनाम

0
2


हसन अली ने जिम्बाब्वे के खिलाफ दो पारियों में 5 विकेट झटके. (AFP)

आईसीसी (ICC) ने मई के सर्वश्रेष्ठ तीन पुरुष खिलाड़ियों की लिस्ट जारी की है. वोट के बाद यह पुरस्कार किसी एक खिलाड़ी को मिलेगा. इसमें पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली (Hasan Ali) भी शामिल हैं. हसल अली दो साल बाद टेस्ट खेलने उतरे और शानदार प्रदर्शन किया.  

दुबई. पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली, श्रीलंका के स्पिनर प्रवीण जयविक्रम और बांग्लादेश के विकेटकीपर बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम को मंगलवार को मई के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के महीने के सर्वश्रेष्ठ पुरुष खिलाड़ी के लिए नामित किया गया. महीने की सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी के लिए आईसीसी ने स्कॉटलैंड की कैथरीन ब्राइस के अलावा आयरलैंड की गैबी लुईस और लीह पॉल को नामित किया है. हालांकि हसन अली के लिए यहां तक पहुंचना आसान नहीं था.

हसन अली ने जिम्बाब्वे के खिलाफ दो टेस्ट में 14 विकेट चटकाए, जबकि श्रीलंका के लिए पदार्पण करते हुए प्रवीण ने बांग्लादेश के खिलाफ एक टेस्ट में 16 की औसत से 11 विकेट झटके. प्रवीण ने टेस्ट पदार्पण करते हुए श्रीलंका के किसी गेंदबाज की ओर से मैच में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, जिससे टीम दूसरे टेस्ट में जीत दर्ज करने में सफल रही. मुशफिकुर रहीम ने श्रीलंका के खिलाफ एक टेस्ट और तीन वनडे खेले. उन्होंने दूसरे वनडे में 125 रन की पारी खेली, जिससे उनकी टीम श्रीलंका के खिलाफ पहली बार वनडे सीरीज जीतने में सफल रही.

कैथरीन ब्राइस ने किया ऑलराउंड प्रदर्शन

महिला वर्ग में कैथरीन ब्राइस ने हाल में जारी रैंकिंग में टॉप-10 में जगह बनाने वाली स्कॉटलैंड की पहली पुरुष या महिला खिलाड़ी बनी. उन्होंने आयरलैंड के खिलाफ चार टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 96 रन बनाने के अलावा पांच विकेट चटकाए. इस दौरान उनकी इकोनॉमी रेट 4.76 रन प्रति ओवर रही. गैबी ने भी स्कॉटलैंड के खिलाफ चार टी20 खेलते हुए 116 रन बनाए. इस दौरान उनका औसत 29 और स्ट्राइक रेट 116 रहा. वह सीरीज की सबसे सफल बल्लेबाज रहीं. उन्होंने दूसरे मैच में 47 जबकि चौथे मैच में 49 रन की पारी खेली. लीह आयरलैंड और स्कॉटलैंड के बीच सीरीज में नौ विकेट चटकाकर सबसे सफल गेंदबाज रहीं.वापसी के बाद 8 पारी में उतरे, 4 में 5 विकेट झटके

हसन अली बैक इंजरी के कारण जनवरी 2019 में टीम से बाहर हो गए. रिहैब के बाद उन्हें जनवरी 2021 में टेस्ट खेलने का मौका मिला. यानी वे दो साल बाद टेस्ट में उतरे. इसके बाद वे 8 पारियों में गेंदबाजी कर चुके हैं. 4 पारियों में उन्हाेंने 5 विकेट लेने का कारनामा किया है. उन्हें जिम्बाब्वे के खिलाफ अप्रैल-मई में दो टेस्ट में 14 विकेट लेने के कारण पुरस्कार के लिए आईसीसी ने नामित किया है. उन्होंने इस दौरान 50 ओवर गेंदबाजी की. दो पारी में 5-5 विकेट झटके. उनके टेस्ट करियर की बात करें तो उन्होंने 13 मैच में 57 विकेट झटके हैं. 5 बार विकेट जबकि एक बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया है.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here