12-18 साल उम्र वालों के लिए जल्द आएगी जायडस कैडिला की वैक्सीन, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को बताया

0
4


नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने कोरोना के टीकाकरण अभियान (Vaccination Drive in India)  को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर किया है. इसके तहत कहा गया है कि जल्द ही 12 से 18 साल के उम्र के बच्चों को ज़ायडस कैडिला (Zydus Cadila) की वैक्सीन लगाई जाएगी. सरकार ने साथ ही कहा है कि इस साल के आखिर तक सभी को वैक्सीन लगा दी जाएगी. बता दें कि पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना के वैक्सीन को लेकर केंद्र से सवाल किए थे. कोर्ट ने पूछा था कि कोरोना के रोकथाम के लिए सरकार क्या कदम उठा रही है.

केंद्र सरकार ने बताया कि कोरोना महामारी से बच्चों को बचाने के लिए भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन का 2 से 18 साल के बच्चों पर ट्रायल शुरू हो गया है, जबकि जायडस कैडिला की वैक्सीन का 12 से 18 वर्ष के बच्चों पर क्लिनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है. जल्द ही यह वैक्सीन 12 से 18 बच्चों के लिए उपलब्ध होगी.

ये भी पढ़ें:- दिल्‍ली को कल से मिलेंगी और रियायतें, जानें क्‍या खुलेगा, क्‍या रहेगा बंद

DCGI से मंजूरी का इंतज़ार
कहा जा रहा है कि अहमदाबाद की कंपनी जायडस-कैडिला तीसरे फेज का ट्रायल पूरा कर चुकी है. ये वैक्सीन बच्चों के साथ-साथ बड़ों को भी दी जा सकेगी. अगले कुछ ही हफ्ते के अंदर कंपनी ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से इसके इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत मांग सकती है. बता दें कि इस वक्त पूरी दुनिया में सिर्फ फाइज़र ही एकमात्र वैक्सीन हौ जो 12 से 18 साल के उम्र के बच्चों को दी जा रही है.

वैक्सीन की उपलब्धता
सरकार के मुताबिक देश में 18 साल से ऊपर के लगभग 93-94 करोड़ लोग हैं जिनको वैक्सीन दी जाएगी. इसके लिए 186 से 188 करोड़ वैक्सीन डोज की जरूरत होगी. केंद्र सरकार ने हलफनामे में कहा है कि अगस्त 21 से दिसंबर 2021 तक देश 135 करोड़ वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी. इसमें कोविडशील्ड की 50 करोड़, – कोवैक्सीन की 40 करोड़, बॉयोलोजिकल ई की 30 करोड़, जायडस कैडिला 5 की करोड़ और स्पूतनिक वी की 10 करोड़ वैक्सीन शामिल है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here