हिमाचल कांग्रेस में गुटबाजी: शिमला पहुंचे सह-प्रभारी संजय दत्त, 6 दिन तक टटोलेंगे नब्ज

0
1


अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव और पूर्व एमएलसी संजय दत्त (Sanjay Dutt) हिमाचल प्रदेश केसह-प्रभारी बनने के बाद अपना नया दायित्व संभालने के लिए 6 दिवसीय दौरे के लिए पहुंचे हैं.

हिमाचल कांग्रेस में गुटबाजी फिर से सामने आई है. बाली गुट के पोस्टर्स में वीरभद्र सिंह को जगह ना मिलने के बाद बाली के पोस्टर फाड़ दिए गए थे. वहीं, वीरभद्र गुट के मुकेश अग्निहोत्री, आशा कुमार और सुधीर शर्मा सहित छह नेताओं ने शिमला के अलावा, ऊना में भी मीटिंग की थी. साथ ही कहा था कि वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में ही 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ा जाएगा.

शिमला. हिमाचल कांग्रेस (Himachal Congress) के नए सह प्रभारी संजय दत्त मंगलवार देर शाम को शिमला (Shimla) पहुंचे. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव  और पूर्व एमएलसी संजय दत्त (Sanjay Dutt) हिमाचल प्रदेश के प्रभारी बनने के बाद अपना नया दायित्व संभालने के लिए 6 दिवसीय दौरे के लिए पहुंचे हैं. कांग्रेस (Congress) आलाकमान ने उन्हें पार्टी को एकजुट करने का जिम्मा सौंपा है. साथ ही संगठन की गतिविधियों समेत अन्य कई विषयों पर रिपोर्ट तैयार कर पार्टी आलाकमान को सौंपेगे. अपने दौरे के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेताओं, विधायको, प्रदेश पदाधिकारियों, कार्यकारिणी सदस्यों, जिला और ब्लाक अध्यक्षों के अलावा अग्रणी संगठनों, विभागों के प्रमुखों और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठके करेंगे.

राठौर ने किया स्वागत

प्रदेश मुख्यालय राजीव भवन पंहुचने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर और अन्य नेताओं ने सह प्रभारी का शिमला पहुंचने पर स्वागत किया. इसके बाद प्रदेशाध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष के साथ एक बैठक की. संजय दत्त ने संगठन और राजनैतिक गतिविधियों को लेकर चर्चा के साथ साथ प्रदेश में कोविड़ की स्थिति और प्रदेश सरकार की ओर से किए कार्यों पर भी फीडबैक लिया.बैठक के बाद पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के आवास हॉली लॉज भी गए, प्रतिभा सिंह और विक्रमादित्य सिंह से मुलाकात की.

वीरभद्र सिंह का भी जाना हालवरिष्ठ नेता वीरभद्र सिंह का कुशलक्षेम जाना और उन्होंने वीरभद्र सिंह के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की. पत्रकारों के साथ बातचीत में सह प्रभारी ने कहा कि सोनिया गांधी राहुल गांधी ने उन्हें ये दायित्व सौंपा है और पार्टी को मजबूत करने की जिम्मेदारी दी है. बता दें कि हिमाचल कांग्रेस में गुटबाजी फिर से सामने आई है. बाली गुट के पोस्टर्स में वीरभद्र सिंह को जगह ना मिलने के बाद बाली के पोस्टर फाड़ दिए गए थे. वहीं, वीरभद्र गुट के मुकेश अग्निहोत्री, आशा कुमार और सुधीर शर्मा सहित छह नेताओं ने शिमला के अलावा, ऊना में भी मीटिंग की थी. साथ ही कहा था कि वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में ही 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ा जाएगा.









Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here