सड़कों पर उतरे कारोबारी: प्रशासक से की मांग- हर दुकानदार के साथ 5 परिवार जुड़े, सभी मर रहे हैं भूखे; हम सैलरी दें या अपने खर्च उठाएं, पंजाब की तर्ज पर ऑड-ईवन सिस्टम करें लागू

0
3


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

प्रोटेस्ट में काेविड प्राेटाेकाल का पूरा ध्यान रखा गया। हर मार्केट में 15 से 20 लाेग ही इकट्ठे हुए।

लाॅकडाउन में गैर जरूरी शाॅप्स काे न खाेलने देने पर प्रशासन के फैसले के खिलाफ काराेबारियाें ने माेर्चा खाेल दिया है। बुधवार को शहर की अलग-अलग मार्केट्स एसोसिएशंस ने चंडीगढ़ व्यापार मंडल के साथ मिलकर सिंबोलिक प्रोटेस्ट किया। इस दाैरान काराेबारियों ने लाॅकडाउन के दाैरान गैर जरूरी शाॅप्स काे न खाेलने देने के प्रशासन के फैसले के खिलाफ शहर की अलग-अलग मार्केट्स में नाराजगी जताई। प्रोटेस्ट में काेविड प्राेटाेकाल का पूरा ध्यान रखा गया। हर मार्केट में 15 से 20 लाेग ही इकट्ठे हुए।

चंडीगढ़ व्यापार मंडल के एडवाइजर बरिंदर कुमार नारद ने कहा- हम प्रशासक वीपी सिंह बदनोर से गुजारिश करना चाहते हैं कि पंजाब की तर्ज पर ऑर्ड-ईवन सिस्टम पर खोलने की परमिशन दी जाए। एक-एक दुकानदार के साथ पांच-पांच परिवार जुड़े हैं। सभी परिवार भूखे मर रहे हैं। अगर सैलरी देते हैं तो दुकानदार मरते हैं क्योंकि दुकानदारों के सिर पर तमाम खर्च हैं, जिन्हें वह पूरा नहीं कर पा रहे हैं।

यहां हुआ प्रोटेस्ट

बुधवार सुबह 11 से 12 बजे तक सेक्टर-11 डी इंटरनल बूथ मार्केट और सेक्टर-29 डी की मार्केट में प्रदर्शन किया गया। दाेपहर 12 से 1 बजे तक सेक्टर-15 डी की शाॅप्स के बाहर और सेक्टर-44-डी की मार्केट में विराेध प्रदर्शन हुआ। दाेेपहर 1 बजे से दाे बजे तक सेक्टर-21 और सेक्टर-45 एकता मार्केट सर्कुलर राेड पर विराेध-प्रदर्शन का समय है। बता दें कि इससे पहले चंडीगढ़ व्यापार मंडल ने लाॅकडाउन के दाैरान पंजाब की तर्ज पर ऑड-ईवन पैटर्न पर शाॅप खाेलने की भी परमिशन मांगी थी।

बदनोर को लिख चुके हैं लेटर

सेक्टर-32 मार्केट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान व कांग्रेसी नेता जगदीप महाजन ने प्रशासक वीपी सिंह बदनोर को लेटर लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि प्रशासन ने दुकानदारों के साथ भेदभाव किया है। कुछ दुकानें तो जरूरी आइटम्स के नाम पर खुल रही हैं जबकि बाकी दुकानों को बंद रखने का आदेश हुआ है। महाजन ने कहा कि प्रशासन को चाहिए कि सभी दुकानों को एक तय समय के मुताबिक खोलने की इजाजत दी जाए। सेक्टर-32 की मार्केट में ही ज्यादातर दुकानें जरूरी आइटम्स की वजह से खुल रही हैं, जबकि कुछ दुकानदार ऐसे हैं, जिनका बिजनेस पूरी तरह से ठप पड़ा है।

मोटर मार्केट वेलफेयर एसोसिएशन ने भी लिखा

चंडीगढ़ की 5 मोटर मार्केट वेलफेयर एसोसिएशनों ने चंडीगढ़ प्रशासन से मांग की है कि या तो पूरा कर्फ्यू लगाएं या फिर ऑड-ईवन में दुकानें खोलने की मंजूरी दें। इसको लेकर चंडीगढ़ भाजपा प्रदेशाध्यक्ष को भी मोटर मार्केट के व्यापारियों ने ज्ञापन सौंपा है। पांचों मोटर मार्केट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रेसिडेंट की तरफ से ये मांग उठाई गई है कि लगातार लाॅकडाउन के चलते कारोबार खत्म हो रहा है। उनके यहां काम करने वाले लोग वापस अपने गांवों को जा रहे हैं। मोहाली में मार्केट खुली हुई है लेकिन यहां पर बंद है। इसके चलते कारोबार सारा वहां पर शिफ्ट हो रहा है। यहां दुकानदारों ने लाखों रुपए जो प्रशासन को ग्राउंड रेंट का देना है और बाकी खर्चे कहां से निकलेंगे। इसलिए व्हीकल्स रिपेयर शाॅप्स को जरूरी सामान की दुकानों में शामिल कर इनको खोलने की मांग उठाई की गई है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here