स्टुअर्ट ब्रॉड छिपाते थे अपनी बीमारी, कहा- शर्म के मारे किसी को नहीं बताया

0
2


स्टुअर्ट ब्रॉड अपनी बीमारी क्यों छिपाते थे? (PC- स्टुअर्ट ब्रॉड इंस्टाग्राम)

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) अस्थमा से पीड़ित हैं. ब्रॉड ने खुलासा किया है कि उन्हें अपनी बीमारी पर शर्म आती थी, जानिये क्यों?

नई दिल्ली. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) मौजूदा दौर के दिग्गज तेज गेंदबाजों में से एक हैं. टेस्ट क्रिकेट में 523 विकेट ले चुके ब्रॉड आज क्रिकेट की दुनिया का बड़ा नाम हैं. लेकिन एक बात जानकर आपको हैरानी होगी कि ये तेज गेंदबाज बचपन से ही एक बीमारी से पीड़ित है. स्टुअर्ट ब्रॉड को बचपन से ही अस्थमा है और उन्होंने खुलासा किया है कि वो अपनी इस बीमारी को स्कूल में दोस्तों से छिपाते थे.

148 टेस्ट मैच खेलने वाले ब्रॉड ने बताया कि वो बचपन से ही अस्थमा से पीड़ित थे और 12-13 साल की उम्र तक उन्हें इस बीमारी के बारे में सबकुछ समझ आ गया था. ब्रॉड ने बताया कि स्कूल के दिनों में उन्हें सांस की इस बीमारी में काफी परेशानी होती थी और अकसर उनकी तबीयत बिगड़ जाती थी. उन्हें स्कूल से छुट्टी लेनी पड़ती थी जिसके बाद दोस्त उनका मजाक भी उड़ाते थे. ब्रॉड ने बताया कि वो अपने दोस्तों को नहीं बताते थे कि उन्हें अस्थमा है, वो बस किसी और बीमारी का बहाना बना देते थे.

ब्रॉड दोस्तों को अस्थमा के बारे में क्यों नहीं बता पाए ?

स्टुअर्ट ब्रॉड ने खुलासा किया, ‘मैं बचपन से ही अस्थमा से पीड़ित था और मैंने इस बात को अपने दोस्तों को भी नहीं बताया. मैं इस बात से शर्माता था कि मेरे स्कूल के दोस्त इस बात का मजाक ना उड़ाएं और मुझे अलग तरह से ना देखें.’स्टुअर्ट ब्रॉड भले ही अस्थमा से पीड़ित हैं लेकिन इसके बावजूद उनकी फिटनेस कमाल की है. इंग्लैंड का ये तेज गेंदबाज 148 टेस्ट मैच खेल चुका है, जिसके लिए गजब की फिटनेस होना जरूरी है. ब्रॉड फिलहाल एक ही फॉर्मेट खेलते हैं लेकिन ये क्रिकेट का सबसे कठिन फॉर्मेट है.

मां की वजह से क्रिकेटर बने ब्रॉड

स्टुअर्ट ब्रॉड ने बताया कि वो अपनी मां की वजह से क्रिकेट खेल रहे हैं. ब्रॉड ने कहा कि जब किसी बच्चे को अस्थमा होते हैं तो उसके माता-पिता उसे खेलों से दूर रखते हैं लेकिन उनकी मां एक स्पोर्ट्स टीचर थी और उन्होंने ब्रॉड को खेलों के लिए प्रेरित किया.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here