सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में वापसी से पहले बोले श्रीसंत, 2023 की वर्ल्ड कप टीम में शामिल होना लक्ष्य

0
2


भारतीय पेसर श्रीसंत एक बार फिर से क्रिकेट में वापसी के लिए तैयार हैं. (Sreesanth/Instagram)

श्रीसंत प्रतियोगी क्रिकेट में वापसी का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे. इस पर श्रीसंत का कहना है कि उनका अंतिम लक्ष्य भारत के लिए 2023 के वनडे वर्ल्ड कप में खेलना है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 27, 2020, 11:00 AM IST

नई दिल्ली. सात साल के लंबे इंतजार के बाद एस श्रीसंत (S Sreesanth) फर्स्ट क्लास क्रिकेट में वापसी करने जा रहे हैं. उनके नाम सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy 2021) के लिए केरल (Kerala) की तरफ से संभावितों में शामिल किया गया है. श्रीसंत टी20 टूर्नामेंट के लिए केरल के कंडिशनिंग कैंप में संजू सैमसन (Sanju Samson) के साथ शामिल होंगे. श्रीसंत प्रतियोगी क्रिकेट में वापसी का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे. इस पर श्रीसंत का कहना है कि उनका अंतिम लक्ष्य भारत के लिए 2023 के वनडे वर्ल्ड कप (ICC ODI World Cup 2021) में खेलना है.

श्रीसंत ने अगस्त 2011 में भारत के लिए और 2013 में अंतिम फर्स्ट क्लास मैच खेले थे. 37 साल के श्रीसंत सभी चुनौतियों से लड़ते हुए लंबे समय बाद क्रिकेट में लौटेंगे. वह लिएंडर पेस, रोजर फेडरर और सचिन तेंदुलकर को अपना प्रेरणास्रोत मानते हैं. श्रीसंत ने टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ एक इंटरव्यू में कहा, ”यह सच है कि इस उम्र में खेलों की दुनिया के लिए आपके भीतर कुछ खास नहीं बचता, लेकिन पेस ने ग्रैंड स्लेम 42 साल की उम्र में जीता, यही बात रोजर फेडरर के साथ है.”

2020 में ODI में रहा ऑस्ट्रेलिया का दबदबा, टॉप 5 में शामिल इकलौते भारतीय केएल राहुल

श्रीसंत 2011 की वर्ल्ड कप विनर टीम में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में खेले थे. उन्होंने कहा, ”जहां तक गेंदबाजी का सवाल है, मैं इतिहास रचूंगा. मैं केवल आगामी सीजन को ही नहीं देख रहा हूं. मेरा लक्ष्य 2023 के वर्ल्ड कप में खेलना है.” श्रीसंत वापसी के लिए अपनी फिटनेस और गेंदबाजी पर काम कर रहे हैं. वह सैयद मुश्ताक ट्रॉफी के बाद घरेलू क्रिकेट में रणजी ट्रॉफी और इरानी ट्रॉफी के लिए खेलना चाहते हैं.IND vs AUS: सिराज के डेब्‍यू को देखने के लिए रातभर नहीं सोया परिवार, भाई ने कहा- पिता की आखिरी इच्‍छा पूरी हुई

उन्होंने कहा, ”हमारा पहला मैच वानखेड़े स्टेडियम में होगा, मैंने अपना आखिरी मैच यहीं खेला था. समय का चक्रा पूरा घूम गया है. केरल ने कभी यह टूर्नामेंट नहीं जीता है, लेकिन अब हमारे पास अच्छी टीम है. मैं कोच टीनू योहानन की गाइडेंस में इस टीम का हिस्सा बनकर रोमांचित हूं.” श्रीसंत ने कहा कि मैं फिट हूं और अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं.







Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here