सलमान बट्ट ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की ईमानदारी पर सवाल खड़ा किया, जांच का उड़ाया मजाक

0
3


सलमान बट्ट ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों पर बोला हमला (Salman butt twitter)

बॉल टेंपरिंग (Ball Tampering Case) मामले में ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड और नाथन लायन पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं, पूर्व पाकिस्तानी कप्तान सलमान बट्ट (Salman Butt) ने भी उनके खिलाफ बयान दिया है.

नई दिल्ली. साउथ अफ्रीका दौरे पर साल 2018 में हुई बॉल टेंपरिंग का मामला (Ball Tampering Case)  ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम का पीछा ही नहीं छोड़ रहा है. इस मामले में उसके तीन खिलाड़ियों डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ और कैमरन बैनक्रॉफ्ट पर बैन तक लग गया था लेकिन अब 3 साल बाद कंगारू गेंदबाज भी इसके लपेटे में आते दिख रहे हैं. हाल ही में बैनक्रॉफ्ट ने कहा था कि गेंद से छेड़छाड़ की बात गेंदबाज भी जानते थे जिसके बाद उस टेस्ट मैच में खेले पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और नाथन लायन पर भी सवाल खड़े होने लगे. कई दिग्गज क्रिकेटरों ने इनके खिलाफ बयान दिये हैं अब पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट्ट (Salman Butt) ने भी ये मानने से इनकार कर दिया है कि गेंद से छेड़छाड़ की जानकारी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को नहीं थी. सलमान बट्ट ने यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए कहा, ‘ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों पर सवाल उठना लाजमी है क्योंकि ऐसा मुमकिन ही नहीं है कि गेंद रिवर्स हो रही हो और गेंदबाजों और ड्रेसिंग रूम में बैठी टीम को पता नहीं हो कि वो कैसे हो रही है. जब रिवर्स शुरू हो जाती है तो तेज गेंदबाज अटैक पर आ जाते हैं. हर टीम में एक खिलाड़ी को गेंद बनाने की जिम्मेदारी दी जाती है और जैसे ही गेंद में हरकत शुरू होती है तेज गेंदबाजों को भी पता होता है और उनसे गेंदबाजी भी कराई जाती है.’ यह भी पढ़ें: WTC Final: आशीष नेहरा ने टीम इंडिया का गेंदबाजी कॉम्बिनेशन बताया, अहम खिलाड़ी पर खतरा सलमान बट्ट ने उड़ाया ऑस्ट्रेलियाई जांच का मजाकसलमान बट्ट ने आगे कहा, ‘दुनिया की कौन सी टीम है जिसे ये नहीं पता होता कि गेंद बनाई जा रही है. माइकल क्लार्क और एडम गिलक्रिस्ट ने भी ये बात मानी है. गिलक्रिस्ट ने तो यहां तक कहा है कि सही से जांच नहीं की गई.’ सलमान आगे बोले, ‘गजब की बात ये है कि बॉल टेंपरिंग केस में तीनों बल्लेबाजों को सजा हुई है किसी गेंदबाज को कुछ नहीं हुआ. जिसने भी ये फैसले किये हैं उन्हें इसकी बधाई देनी चाहिए. उन्होंने कमाल ही कर दिया. बॉल टेंपरिंग का केस है, गेंद रिवर्स स्विंग हो रही है और गेंदबाज को छेड़छाड़ का पता ही नहीं, ये मैं नहीं मान सकता’







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here