संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए: चंडीगढ़ में आज वीक-एंड लॉकडाउन के बीच ज़रुरी सामान की दुकानें दोपहर 2 बजे तक खुल सकेंगी

0
3


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • In Chandigarh, Essential Goods Shops Will Be Open Till 2 Pm Between The Week end And Lockdown Today.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शहर की सुखना लेक को वीकएंड लॉकडाउन पर बंद किया गया है। फाइल फोटो

  • बेवजह घूमने वालों पर पुलिस धारा 188 के तहत मामला दर्ज करेगी
  • खाने के सामान की होम डिलीवरी हो सकेगी, रेस्टोरेंट में बैठ कर खाने पर पाबंदी

शहर में कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण अब प्रशासन की ओर से आज वीकएंड लॉकडाउन लगाया गया है। सुबह से सड़कों पर आने-जाने वालों की संख्या कम है, पुलिस को कई स्थानों पर तैनात किया गया है। शहर की अधिकतर दुकानें बंद है। इससे पहले शहर के साथ लगते पंजाब के मोहाली और हरियाणा के पंचकूला जिले में वीकएंड लॉकडाउन लगाया गया था। तीनों शहरों के लोग कामकाज को लेकर एक-दूसरे शहरों में रोजाना आते जाते है जिससे संक्रमण की चेन टूट नहीं रही थी। अब तीनों स्थानों पर वीकएंड लॉकडाउन लगाने से संक्रमण की चेन को तोड़ने में कुछ सहायता मिल सकती है।

प्रशासन की सख्ती

प्रशासन की ओर से सख्ती करते हुए कहा गया है कि वीकएंड लॉकडाउन के दौरान गैरजरूरी चीजों की दुकानें बंद रहेंगी। बहुत जरूरी होने पर ही लोग बाहर निकल सकेंगे। चंडीगढ़ प्रशासन ने दो दिन के लिए कोरोना कर्फ्यू लगाया है। इसको लेकर डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट कम डीसी मनदीप सिंह बराड़ ने धारा-144 के तहत निर्देश जारी किए हैं। कोरोना कर्फ्यू का उल्लघंन करने वालों के खिलाफ धारा-188 के तहत पुलिस एफआईआर दर्ज करेगी। वही, वीरवार रात को कर्फ्यू टाइम में बेवजह घूमने वाले 16 लोगों पर केस दर्ज किया गया है।

शहर के दुकानदारों ने किया विरोध

जरूरी सामान की दुकानें लॉकडाउन के दौरान दोपहर 2 बजे तक ही खोलने के फैसले का शहर के दुकानदारों ने शुक्रवार को प्रशासन के लॉकडाउन लगाने के फैसले के बाद विरोध किया था। चंडीगढ़ रिटेल करियाना एसोसिएशन के प्रेसिडेंट राजेंद्र जैन ने कहा कि कम से कम 5 बजे तक का समय दिया जाना चाहिए था, क्योंकि सुबह देर से ही दुकानें खुलती हैं। ऐसे में जिन्हें जरूरी सामान चाहिए होगा, उन्हें दिक्कत होगी।

शहर में ये खुले रहेंगे

जरूरी सामान से संबंधित दुकानें खुली रहेंगी। दूध, डेयरी प्रोडक्ट्स, सब्जियां, फ्रूट वगैरह की दुकानें दोपहर 2 बजे तक ही खुल सकेंगी। यहां से सिर्फ होम डिलीवरी ही होगी। मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट या इंडस्ट्री खुली रहेगी। इंटर स्टेट जरूरी और गैर जरूरी सामान की मूवमेंट जारी रहेगा एटीएम, अस्पताल या बाकी सभी तरह की मेडिकल इस्टेब्लिशमेंट जिसमें मैन्युफैक्चरर, डिस्पेंसरी, कैमिस्ट, लैबोरेटरी, रिसर्च लैब, क्लिनिक, नर्सिंग होम्स खुले रहेंगे। रेस्टोरेंट, ईटिंग प्लेस, होटल, फूड कोर्ट खुल सकेंगे। यहां से सिर्फ होम डिलीवरी हो सकेगी, वह भी रात 9 बजे तक। गर्भवती महिलाएं और मरीज इलाज के लिए आ-जा सकेंगे। रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट या आईएसबीटी से आने वाले विजिटर्स या कहीं जा रहे लोगों को आने-जाने की छूट रहेगी। 50 लोगों की गैदरिंग के साथ शादी समारोह को छूट, लेकिन संबंधित एसडीएम की मंजूरी जरूरी होगी। अंतिम संस्कार में 20 लोग शामिल हो सकेंगे। अगर कोई एग्जाम है तो स्टूडेंट्स और जिनकी एग्जामिनेशन हाॅल में ड्यूटी है, उन्हें छूट रहेगी। वैक्सीनेशन सेंटर, टेस्टिंग सेंटर खुले रहेंगे

शहर में ये बंद रहेगा

शॉपिंग माॅल, सिनेमा,शराब के ठेके,रेस्टोरेंट या ईटिंग पाॅइंट में सिटिंग की मंजूरी नहीं है। घर से ऑर्डर कर खाना मंगवा सकते हैं।गैर जरूरी सामान की सभी दुकानें जैसे मोबाइल मार्केट, कपड़ा मार्केट, कंप्यूटर मार्केट व बाकी बंद रहेंगी। किसी भी तरह के सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रम नहीं होंगे।

कर्फ्यू में ये बाहर आ-जा सकेंगे

लाॅ एंड ऑर्डर/इमरजेंसी और म्यूनिसिपल सर्विसेज में लगे कर्मी, एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट, पुलिस, मिलिट्री, सीआरपीएफ, हेल्थ, इलैक्ट्रिसिटी, फायर, मीडिया कर्मी, टेलिकाॅम सर्विसेज या फिर जिनकी कोविड में ड्यूटी है, वे बाहर निकल सकेंगे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here