शंभू पुजारी केस: पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन, 9 दिन बाद सरकार-आंदोलनकारियों में समझौता

0
3


राजस्थान में पुजारी शंभु शर्मा का 9 दिन बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा.

Shambhu Pujari case: राजस्थान में पुजारी शंभू शर्मा के शव का नौ दिन बाद अंतिम संस्कार होगा. रविवार को सचिवालय में हुई वार्ता के बाद गहलोत सरकार ने भाजपा नेताओं की मांगें मान ली. इसके बाद धरना खत्म करने और अंतिम संस्कार पर सहमति बन गई है.

  • Last Updated:
    April 11, 2021, 8:44 PM IST

जयपुर. शंभु पुजारी की पार्थिव देह नौ दिन बाद पंचतत्व में विलीन हो पाई. सरकार और आंदोलन कर रहे बीजेपी नेताओं के बीच वार्ता की टेबल पर सहमति बनी. सरकार इस मामले में जांच के दायरे में आ रहे सरकारी अधिकारियों को दौसा से हटाने पर सहमत हो गई. साथ ही पूरे प्रकरण की संभागीय आयुक्त से जांच कराई जाएगी.  पिछले चार दिनों से जयपुर में सिविल लाइंस फाटक पर शव रखकर चल रहा धरना अब समाप्त हो गया है.

सरकार के साथ वार्ता में बनी सहमति के बाद दोनों पक्षों ने समझौता पत्र पर दस्तखत किए हैं. समझौता होने के बाद भाजपा के राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने आंदोलन और धरना खत्म करने की घोषणा की. सरकार की ओर से मुख्य सचिव निरंजन आर्य और सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी वार्ता की टेबल पर आये, दो घंटे में तमाम मांगों पर सहमति बन गई.

जगदीश सैनी की मौत के मामले की भी सरकार जांच करायेगी 

सहमति बनने के बाद भाजपा नेता सिविल लाइंस फाटक पहुंचे. वहां पर सरकार के साथ हुए समझौते की जानकारी दी. शव का एसएमएस अस्पताल में पोस्टमॉर्टम हुआ और शाम होते होते पुजारी की पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन हो गई. इसके साथ ही नौ दिन से चल रहे सियासी ड्रामें का भी अंत हो गया. राजनीति ने जमकर सियासी खेल खेला और संवेदनहीनता की पराकाष्ठा पार होती दिखी.इन मुददों पर बनी सहमति

  • सरकार मंदिर माफी की जमीनों को कब्जे और विवादों से बचाने के लिए कमेटी का गठन करेगी. ये कमेटी देश के दूसरे राज्यों के दौरे कर वहां बनें कानूनों का अध्ययन करेगी. और सरकार को रिपोर्ट देगी.
  • शंभू पुजारी प्रकरण की प्रशासनिक जांच जयपुर के संभागीय आयुक्त जितेंद्र उपाध्याय करेंगे. वह 30 अप्रैल तक सरकार को रिपोर्ट पेश करेंगे.
  • इस मामले में दर्ज मुकदमों  की जांच आई जी जयपुर हवासिंह घुमरिया की निगरानी में होगी.
  • शंभू पुजारी की जमीनों पर अतिक्रमण की जांच होगी, वहां बनी 172 दुकानों को सील किया जायेगा.
  • महुवा नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी यानि ईओ और एडीएम द्वारा किये गये दुव्यर्वहार की जांच भी संभागीय आयुक्त करेंगे.
  • जगदीश सैनी की मौत के मामले की भी सरकार जांच करायेगी.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here