वैक्सीनेशन पर संकट: स्लाॅट के लिए शहरवासी रात में करते हैं जागरण, चेक करते ही को जाता है ब्लॉक

0
1


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

लोगों का आरोप है कि एप पर चेक करते है वह ब्लॉक हो जाता है।

राज्य सरकार 18 प्लस के लोगों का टीकाकरण प्राथमिकता से कराने का बेशक दावा करे, लेकिन जमीनीं हकीकत ये है कि वैक्सीन की कमी के कारण लोगों को स्लॉट (सेंटर) तक नहीं मिल पा रहे हैं। शहरवासी रात में जाग कर जब भी स्लॉट बुक करने का प्रयास करते हैं। लेकिन, पोर्टल खुलते ही ब्लॉक हो जाता है। ये सिलसिला पिछले एक सप्ताह से लगातार चल रहा है। ऐसे में युवाओं के सामने परेशानी पैदा हो गयी है। लोगों का कहना है कि जब स्वास्थ्य विभाग स्लॉट तक मैनेज नहीं कर पा रहा है तो टीकाकरण कैसे मैनेज कर पाएगा।

एनआईटी तीन निवासी नीरज वर्मा व पीयूष वर्मा ने बताया कि वह पिछले एक सप्तााह से टीका लगवाने के लिए कोविन पोर्टल पर स्लॉट बुक कराने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन स्लॉट नहीं मिल पा रहा है। कई दिन आधी रात तक पोर्टल खोल कर बैठे रहे फिर भी स्लॉट नहीं मिला। बल्लभगढ़ के आर्य नगर निवासी पंकज गोयल व ज्योति गोयल का कहना है कि कोविन पोर्टल ओपन करते ही अपने आस पास के सेंटर ब्लॉक दिखाई देते हैं। ये सिलसिला पिछले एक सप्ताह से लगातार जारी है।

उधर, चावला कॉलोनी निवासी दीपा व पवन की भी यही शिकायत है। इन युवाओं का कहना है कि सरकार, जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग वैक्सीनेशन को लेकर लंबे चौड़े दावे कर रहा है लेकिन पूरा मैनेजमेंट फेल है। ऐसे में कैसे 18 प्लस का वैक्सीनेशन कैसे हो जाएगा। इसका जवाब न तो प्रशासन के पास है और न ही स्वास्थ्य विभाग के पास। हैरानी की बात ये है कि अब मामले में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी बोलने को तैयार नहीं हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here