विशेष उपाय करने अपील: गुप्ता ने कहा- घोषणा 44 ऑक्सीजन संयंत्रों की, बने केवल 9, अब 64 प्लांट लगाने का नया जुमला

0
11


नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • अस्पतालों में बाल रोग विशेषज्ञ वार्ड बनाना किया जाए अनिवार्य

रोहिणी से भाजपा विधायक विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली सरकार से कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारियों के लिए विशेष उपाय करने अपील की है। गुप्ता ने कहा कि विशेषज्ञों द्वारा संभावना जताई गई है कि तीसरी लहर दूसरी लहर की तुलना में अधिक खतरनाक होगी जो हमारे बच्चों को और अधिक प्रभावित कर सकती है।

गुप्ता ने कहा कि बड़े-बड़े वायदे कर उन्हें पूरा न करना मुख्यमंत्री केजरीवाल का स्थाई ट्रैक रिकॉर्ड बन गया है। उन्होंने कहा कि अप्रैल के महीने में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने 31 मई से पहले 44 ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने की घोषणा की थी। लेकिन वे इस लक्ष्य को पूरा करने में पूरी तरह से विफल रहे क्योंकि तब तक केवल 9 ऑक्सीजन संयंत्र ही चालू किए जा सके थे।

मुख्यमंत्री केजरीवाल अब अपने पहले के वादे को पूरा किए बिना अगले 2-3 महीनों में 64 ऑक्सीजन प्लांट लगाने का नया जुमला लेकर आए हैं। उन्होंने कहा कि समय की आवश्यकता है कि दिल्ली में बने जिन अस्पतालों का अभी तक संचालन नहीं किया गया है उसमें निर्माण कार्य पूरा कर उन्हें जल्द से जल्द संचालित किया जाए।

उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक आइसोलेशन केंद्रों का निर्माण किया जाए और पहले से मौजूद बुनियादी ढांचे जैसे कि मोहल्ला क्लीनिक, सामुदायिक केंद्र, स्कूलों आदि की पहचान की जाए। जिन्हें आइसोलेशन केंद्रों में बदला जा सकता है और उन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति से लैस किया जा सकता है।

गुप्ता ने बताया कि बच्चों के लिए विशेष तैयारी करने की आवश्यकता है जिससे उनकी समय पर देखभाल सुनिश्चित की जा सके। इसके लिए प्रत्येक अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति से लैस विशेष बाल रोग विशेषज्ञ वार्ड की स्थापना अनिवार्य कर दी जानी चाहिए। कोविड से प्रभावित होने वाले बच्चों से संबंधित मामलों को व्यवस्थित रूप से संभालने के लिए चिकित्सा हेल्पलाइन को और सुदृढ़ किया जाए।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here