विरोध प्रदर्शन: 10 से ज्यादा कॉलोनियों में पूरी रात बंद रही बिजली, एक्सईएन ऑफिस का किया घेराव

0
1


जीरकपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

बुधवार रात लोहगढ़ एरिया की कॉलोनियों में बिजली गुल रही। लोगों को पूरी रात गर्मी में काटनी पड़ी।

  • पावरकाॅम के अधिकारियों को फोन किए पर किसी ने भी जवाब नहीं दिया

जीरकपुर में बिजली सिस्टम दम तोड़ने लगा है। बुधवार रात लोहगढ़ एरिया की 10 से ज्यादा कॉलोनियों में बिजली गुल रही। पूरी रात लोग गर्मी और उमस में बेहाल रहे। पावरकाॅम के अधिकारियों को फोन किया तो किसी ने भी जवाब नहीं दिया। इसके बाद गुस्साए लोग वीरवार दिन में करीब 11 बजे पावरकॉम के एक्सईएन खुशविंदर सिंह के ऑफिस को घेरने पहुंचे।

इसकी भनक शायद एक्सईएन को पहले से लग गई थी और वह मौके से चंपत हो गए। लोग ऑफिस पहुंचे तो एक्सईएन वहां नहीं मिले। एक्सईएन ही नहीं, ऑफिस में कई अन्य कर्मचारी भी मौजूद नहीं थे, जबकि ऑफिस में एसी, पंखे, लाइटें आदि चल रही थी। मौके से लोगों ने एक्सईएन को कई बार फाेन किया लेकिन उन्होंने फाेन नहीं उठाया।

इसके बाद गुस्साए लोगों ने एक्सईएन के खिलाफ नारेबाजी की। वहां मौजूद कर्मचारियों ने बिजली सप्लाई को लेकर कहा कि पूरे शहर में कटौती नहीं है। इस पर भड़के लोगों ने कहा कि खुद एसी रूम में बैठकर लोगों की परेशानी को दूर करने की बजाय झूठ बोल रहे हैं कि सप्लाई बहाल थी, जबकि पूरी रात लोहगढ़ क्षेत्र में हजारों परिवार बिना बिजली के परेशान रहे।

यहां पार्षद यादविंदर शर्मा, तेजिंदर सिंह तेजी ने पावरकॉम के मैनेजिंग डायरेक्टर वेणुप्रसाद को फोन किया और उसके बाद ऑफिस के बाहर आकर नारेबाजी की। पार्षद तेजिंदर सिंह तेजी ने बताया कि पूरी रात लोहगढ़ क्षेत्र की दर्जनों कॉलोनियों और वीआईपी रोड के कई अपार्टमेंट्स में बिजली सप्लाई बंद रही।

पिछले तीन-चार दिन से यहां लोग गर्मी में झुलस रहे हैं। पावरकाॅम के एक्सईएन खुशविंदर सिंह का हाल यह है कि वे किसी का फोन तक नहीं सुनते। जबकि दूसरी ओर, जनता इस गर्मी में बिना बिजली के तड़प रही है। पानी भी सप्लाई नहीं हो पा रहा है।

एक्सईएन के नीचे एसडीओ जेई, लाइनमैन सब फोन नहीं उठाते हैं। पहली बार जीरकपुर में ऐसा एक्सईएन तैनात किया गया है जो सिर्फ कुछ लोगों के हित के लिए काम कर रहा है। जबकि पब्लिक यहां बिजली के बिना परेशान है। इस एक्सईएन को यहां से बदला जाना चाहिए।

न तो नए कर्मचारी तैनात किए, न बिजली सिस्टम को दुरुस्त किया

जीरकपुर में बिजली सिस्टम को गर्मियों में ठीक से चलाने के लिए ज्यादा कर्मचारी तैनात करने पड़ते हैं। शहर की आबादी के हिसाब से बिजली लोड बढ़ गया है। इसको हर साल अपग्रेड करना पड़ता है। हरेक एरिया के लिए कर्मचारी तैनात किए जाते थे ताकि फॉल्ट आने पर उसे तुरंत ठीक किया जा सके, लेकिन मौजूदा हालात यहां इतने खराब हैं कि न तो नए कर्मचारी तैनात किए गए हैं और न ही बिजली सिस्टम को दुरुस्त किया जा रहा है।

एक्सईएन अपनी चला रहा है। शहर की जनता से उनका कोई सराेकार नहीं है। खुद एयरकंडीशनर अॉफिस मेंे बैठते हैं और शहर की जनता को गर्मी में तड़पने के लिए छोड़ रखा है। लोहगढ़ एरिया ही नहीं, पूरे जीरकपुर में बुधवार की रात फ्लक्चुएशन और बिजली कटौती होती रही। ज्यादातर एिरया में लो वोल्टेज की समस्या रही।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here