विपक्ष के नेताओं ने मेयर पर लगाए आरोप, कहा- आप एक फेल्योर मेयर हैं , जिसे सिर्फ कुर्सी से प्यार है

0
1


चंडीगढ़6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कांग्रेस से पार्षद व नगर निगम के विपक्ष नेता देविंदर बबला सहित कांग्रेस के अन्य पार्षदों ने बुधवार को मेयर राज बाला मलिक को एक चिट्‌ठी लिखी है।

  • कहा- पिछले महीने मीटिंग न कर आप ने ये सिद्ध कर दिया है कि आपको अपनी कुर्सी छिन जाने का डर है
  • कहा- मेयर मैडम जी होश मे आओ, चंडीगढ़ का बुरा हाल न करो आप बीजेपी नहीं, पूरे शहर की मेयर हैं

कांग्रेस पार्षद और नगर निगम में विपक्ष के नेता देविंदर बबला समेत कांग्रेस के अन्य पार्षदों ने बुधवार को मेयर राजबाला मलिक को एक चिट्‌ठी लिखी है। इस चिट्‌ठी में उन्होंने मेयर को एक फेल्योर मेयर कहा और आरोप लगाया कि मेयर को सिर्फ कुर्सी से प्यार है। पिछले महीने मीटिंग नहीं करके उन्होंने ये सिद्ध कर दिया है। चिट्ठी में कहा कि मीटिंग सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर भी कर सकते थे, लेकिन मेयर को किसी पर यकीन नहीं था। मेयर को डर था कि कहीं कोई मेयर के पद पर नहीं बैठ जाए।

चिट्ठी में मेयर पर आरोप लगाते हुए कहा है कि अगर दिल्ली मे पार्लियामेंट और राज्यों में विधानसभा की मीटिंग हो सकती है, तो चंडीगढ़ मे नगर निगम की मीटिंग क्यों नहीं हो सकती? चंडीगढ़ को लेकर कितने अहम फैसले हैं, जो पेंडिंग हैं। बिना हाउस से पास करवाए सेक्टर 23 में दुकानदारों का किराया 14 रुपए से 23000 रुपये किया गया। यहीं भाजपा का चरित्र है कि गरीब को मार ही देना है।

मेयर राजबाला मलिक (फाइल फोटो)

मेयर राजबाला मलिक (फाइल फोटो)

स्वच्छ भारत मिशन को जो रिपोर्ट भेजी वो इस तरह

लेटर में ये भी लिखा गया है कि आप ने स्वच्छ भारत मिशन को लिखा है कि पूरे चंडीगढ़ डोर टू डोर कूड़े की कलेक्शन की जा रही है। 24 वार्डो मे सैगरीगेशन किया जा रहा है जबकि डड्डुमाजरा का हाल देखो तो कूडे के पहाड़ ऐसे पहले कभी नहीं देखे। चंडीगढ़ मे रोज 479 मीट्रिक टन कूड़ा इकट्ठा किया जा रहा है और 455 टन कूडा रोज प्रोसेस कर रहे हैं। इसके मुताबिक तो 95 प्रतिशत कूडा प्रोसेस किया जा रहा है। आपके मुताबिक क्या ये सही रिपोर्ट है?

आप और आपके भाजपा के पार्षदों ने चंडीगढ़ की जनता को धोखा दिया और झूठ बोला। इतना कुछ करने के बाद भी आप 16 नंबर पर आए। यहां आप करोड़ों रुपए साफ सफ़ाई पर खर्च करते हैं। लायंस और टीडीएस जैसी कंपनियां करोड़ों रुपए नगर निगम चंडीगढ़ से लेती हैं लेकिन इन्हें कोई पूछने वाला ही नहीं है। अभी भी आप लोगो को यह कहकर गुमराह कर रहे हैं कि 30 अक्टूबर से पूरे चंडीगढ़ मे सैगरीगेशन शुरू हो जाएगा पर शहर की जनता को अभी तक भी इसके बारे में पता नहीं।

चिट्‌ठी में अंत में लिखा है- मेयर मैडम जी होश मे आओ। चंडीगढ़ का बुरा हाल न करो। आप बीजेपी नहीं, पूरे शहर की मेयर हैं। विनती है कि आने वाली मीटिंग सदन मे बुलाई जाए। देविंदर बबला ने बताया कि 20 तारीख को कांग्रेस के पार्षद मेयर केआफिस का घेराव करेगे और मजबूर करेंगे की हाउस की मीटिंग सदन मे बुलाई जाए ताकि शहर के विकास के बारे चर्चा की जाए।

इन्होंने लिखा लेटर

  • देविंदर सिंह बबला, पार्षद और विपक्ष नेता नगर निगम चंडीगढ़
  • गुरबख्श रावत, पार्षद नगर निगम चंडीगढ़
  • शीला फूल सिंह, पार्षद नगर निगम चंडीगढ़
  • सतीश कैंथ, पार्षद नगर निगम चंडीगढ़
  • रविन्द्र कौर गुजराल,पार्षद नगर निगम चंडीगढ़



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here