Advertisement

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल से पहले अपने गेंदबाजों को विश्राम देगा न्यूजीलैंड


वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल 18 जून से शुरू होगा. (PIC: AFP)

तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult) सीरीज के अंतिम मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे और ऐसे में न्यूजीलैंड अन्य प्रमुख गेंदबाजों टिम साउदी, नील वैगनर और काइल जेमीसन में से किसी एक को विश्राम दे सकता है.

बर्मिंघम. न्यूजीलैंड 18 जून से भारत के खिलाफ (India vs New Zealand) होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल के लिए अपने प्रमुख गेंदबाजों को तरोताजा रखने के ​लिए उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में विश्राम देगा. न्यूजीलैंड पहले ही अपने कप्तान के​न विलियमसन (Kane Williamson) की चोट को लेकर चिंतित है जबकि स्पिनर मिशेल सैंटनर (Mitchell Santner) भी उंगली की चोट के कारण गुरुवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच में नहीं खेल पाएंगे. विलियमसन कोहनी की चोट से परेशान हैं.

तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult) सीरीज के अंतिम मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे और ऐसे में न्यूजीलैंड अन्य प्रमुख गेंदबाजों टिम साउदी, नील वैगनर और काइल जेमिसन में से किसी एक को विश्राम दे सकता है. इनमें से दो गेंदबाजों को भी विश्राम दिया जा सकता है. न्यूजीलैंड के मुख्य कोच गैरी स्टीड ने दूसरे मैच से पूर्व कहा, ”वे (गेंदबाज) सभी अच्छी​ स्थिति में हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वे अगले मैच में खेलेंगे.”

फारुख इंजीनियर बोले- इंग्लैंड के खिलाड़ी IPL की वजह से हमारे तलवे चाटते हैं

तेज गेंदबाजी विभाग में मैट हेनरी, डग ब्रेसवेल और जैकब टफी को मौका मिल सकता है. गैरी स्टीड ने कहा, ”डब्ल्यूटीसी फाइनल को ध्यान में रखते हुए हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हमारे प्रमुख गेंदबाज तरोताजा और भारत के खिलाफ पहली गेंद से अपना करिश्मा दिखाने के लिए तैयार रहें. ”एंडरसन ने ब्रॉड को कहा था ‘लेस्बियन’, इंग्लैंड के कई और खिलाड़ियों ने किए विवादित ट्वीट

उन्होंने कहा, ”हम 20 खिलाड़ियों की टीम के साथ यहां आए हैं. हमारे कई खिलाड़ियों को टेस्ट क्रिकेट का अनुभव है. मैट हेनरी, डेरिल मिचेल, डग ब्रेसवेल, एजाज पटेल ऐसे खिलाड़ी हैं जो पूर्व में टेस्ट खेल चुके हैं.” भारत और न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीमों के बीच 18 जून से साउथम्पटन के एजियास बाउल में डब्ल्यूटीसी फाइनल खेला जाना है. इस मुकाबले के बाद भारतीय खिलाड़ियों को लगभग तीन हफ्ते (20 दिन) का ब्रेक मिलेगा और वे 14 जुलाई को दोबारा एकत्रित होकर इंग्लैंड के खिालफ चार अगस्त से नॉटिंघम में शुरू होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज की तैयारी करेंगे.







Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement