रायबरेली में लोगों की जिंदगी बचा रहे कवि को मिला सोनू सूद और डॉ. कुमार विश्वास का साथ

0
4


रायबरेली. उत्तर प्रदेश के रायबरेली (Raebareli) जिला सोनिया गांधी का संसदीय क्षेत्र है. सूबे के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा यहां के प्रभारी मंत्री हैं. यहां ग्रामीण अंचल में कोरोना संक्रमण से गांवों को बचाने की मुहिम के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त कवि पंकज प्रसून (Poet Pankaj Prasoon) आगे आए हैं. उन्होंने अपने अभियान में डॉ. कुमार विश्वास और अभिनेता सोनू सूद से मदद की अपील की तो दोनों ने ही सरकारी प्रोटोकॉल के तहत दवाएं, ऑक्सीमीटर, थर्मामीटर फ्री में उपलब्ध कराने की बात कही है. बता दें कि यहां बैसवारे के रहने वाले कवि पंकज प्रसून 7 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव हो गए थे. उन्होंने कोरोना से जंग जीती और ठीक होने के बाद लखनऊ में 17 मरीजों को प्लाज्मा उपलब्ध करवाया. इसके बाद “आओ गांव बचाओ” मुहिम शुरू कर दी. इसके लिए उन्होंने ट्वीट करके डॉ. कुमार विश्वास और अभिनेता सोनू सूद से मदद मांगी है. दोनों ने ही पूरा सहयोग करने का भरोसा दिया. कुमार विश्वास का ट्वीट

रायबरेली कवि पंकज प्रसून ने ट्वीट कर कवि कुमार विश्वास से मांगी मदद तो मिला आश्वासन.

पंकज ने अभिनेता सोनू सूद को ट्वीट करके तीन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की मांग की. इस ट्वीट के पांच मिनट के अंदर ही डॉ. कुमार विश्वास ने रीट्वीट किया तो सोनू सूद ने लिखा कि समझो पहुंच गया. बस पता भेजिए भाई. डॉ. कुमार विश्वास ट्वीट से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने जवाब देते हुए लिखा कि यही सच्चा कवि-कर्म है. पंकज,”कोविड केयर किट” भेज रहा हूं. गांव-गांव अलख जगाओ. गांव बचाओ, देश बचाओ. इसके बाद विश्वास ट्रस्ट की ओर से 30 गांवों के लिए कोविड केयर किट उपलब्ध कराई गई. सोनू सूद का ट्वीट- समझो पहुंच गया

sonu sood1

कुमार विश्वास के ट्वीट पर सोनू सूद का रिएक्शन

आपको बता दें कि कवि पंकज ने जानकारी दी कि प्रारंभिक दौर में 6 ग्राम सभाओं के 32 गांवों को चुना गया है. जहां पर टीम कोविड हेल्प का गठन किया गया है. इसके कोआर्डिनेटर ग्राम लोहड़ा के नीरज शुक्ल, सदस्य अखिलेश कुमार, नीतू अवस्थी, सत्येंद्र अवस्थी, महादेव, रजनीश सिंह, पिंटू यादव, मनोज यादव और मोहम्मद ज़फरूल हैं. ये लोग घर-घर मरीजों की पहचान करेंगे. …और पहुंच गई मदद

चयनित ग्राम पंचायतों में सहजौरा, लोहड़ा, रौला, डोमापुर, मुस्तफाबाद बेलहनी, मऊ गर्वी, गोविंदपुर, मेरुई शामिल हैं. पंकज ने बताया कि पीजीआई लखनऊ के डॉ. ज्ञानचंद, एनबीआरआइ के वैज्ञानिक डॉ सीएस ओझा, राजीव दीक्षित हॉस्पिटल के डॉ. दीनानाथ ऑनलाइन चिकित्सीय परामर्श देने के लिए राजी हो गए.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here