राजस्थान: अब वसुंधरा राजे और उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह के लापता होने के लगे पोस्टर, सियासत गरमायी

0
3


बीजेपी जिलाध्यक्ष जैन ने कहा कि जिस किसी भी व्यक्ति ने ये ओछी हरकत की है यह बहुत ही घृणित है. पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और सांसद दुष्यंत सिंह लगातार झालावाड़ जिले की जनता के संपर्क में हैं.

Rajasthan politics: राजस्थान में इन दिनों कांग्रेस के साथ-साथ बीजेपी में भी राजनीति गरमायी हुई है. बुधवार रात को पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और उनके पुत्र सांसद दुष्यंत सिंह (Vasundhara Raje and Dushyant Singh) के उनके निर्वाचन क्षेत्र झालावाड़ में लापता होने के पोस्टर चस्पा कर दिये गये. इसे वहां सियासत गरमा गई है.

झालावाड़. राजस्थान में राजनीति केवल कांग्रेस (Congress) के खेमे में ही नहीं गरमायी हुई है, बल्कि बीजेपी (BJP) भी उसी राह पर है. बीजेपी की कद्दावर नेता एवं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) का फोटो जयपुर में पार्टी मुख्यालय पर लगाये गये नये पोस्टर से जहां गायब हो गया है वहीं अब राजे और उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह (MP Dushyant Singh) के लापता होने के पोस्टर झालावाड़ शहर में चस्पा कर दिये गये. हालांकि अब इन पोस्टर्स को हटा दिया गया है, लेकिन ये घटनाक्रम राजे के गढ़ में राजनीति को गरमा गया है.

दरअसल झालावाड़ शहर में बुधवार रात को अज्ञात लोगों ने पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर शहर में कुछ स्थानों पर चस्पा कर दिये. दुष्यंत सिंह जहां झालावाड़-बारां लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं और राजे झालावाड़ जिले की झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. गुरुवार को सुबह मामले की जानकारी मिलने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं और नगर परिषद कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर इन सभी पोस्टरों को फाड़कर हटा दिया. पूरे मामले में बीजेपी के जिलाध्यक्ष संजय जैन ने इसे ओछी राजनीतिक हरकत बताया है. अभी तक इस संबंध में पुलिस में कोई मामला दर्ज नहीं करवाया गया है.

जिलाध्यक्ष बोले राजे और सांसद लगातार लोगों के संपर्क में हैं

बीजेपी जिलाध्यक्ष जैन ने कहा कि जिस किसी भी व्यक्ति ने ये ओछी हरकत की है यह बहुत ही घृणित है. पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और सांसद दुष्यंत सिंह लगातार झालावाड़ जिले की जनता के संपर्क में हैं. कोरोना काल में भी लगातार उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं के माध्यम से पूरे जिले के सभी मंडलों की वर्चुअल बैठकर लेकर हर समस्या का निदान करवाया है. वे जिला प्रशासन के आला अधिकारियों के भी लगातार संपर्क में रहे हैं. बकौल जैन ऐसे में जिस किसी भी समाजकंटक ने यह हरकत की है यह बहुत ही ओछी राजनीति का परिचायक है.सिंह भी हो गये थे कोरोना संक्रमित

गौरतलब है कि कोरोना महामारी काल में सांसद दुष्यंत सिंह भी इससे संक्रमित हो गए थे. उसके बाद वो लगातार पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के साथ जिले के पार्टी कार्यकर्ताओं की वर्चुअल बैठक लेकर कोरोना काल में जिले की समस्याओं की जानकारी लेते रहे हैं.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here