Advertisement

भारत की इन गुफाओं में भरा है लाखों टन कच्‍चा तेल, बुरे वक्त में आता है काम


राज्यसभा में एक प्रश्न के उत्तर में प्रधान ने कहा, भारत ने अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कम कीमतों का फायदा उठाते हुए अप्रैल-मई, 2020 में 167 लाख बैरल क्रूड खरीदा है और विशाखापत्तनम, मंगलूरू और पाडुर में बनाए गए सभी तीन रणनीतिक पेट्रोलियम रिजर्वों को भरा है. जनवरी 2020 के दौरान 4,416 रुपये प्रति  बैरल की तुलना में कच्चे तेल की खरीद की औसत लागत 1398 रुपये प्रति बैरल थी.





Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement