Advertisement

बलिया हत्याकांड: मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह अभी भी फरार, नामजद चचेरे भाई देवेंद्र सहित 6 गिरफ्तार


बलिया हत्याकांड मामले में मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है. (वीडियो ग्रैब)

बलिया (Ballia) हत्याकांड: एडीजी जोन ब्रज भूषण ने कहा कि घटना के वक्त मौजूद सभी पुलिसकर्मियों को निलम्बित कर दिया गया है. शासन ने मौके पर मौजूद अफसरों पर कार्यवाही की है. नामजद 8 आरोपियों में से 1 को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस की 10 टीमें सरगर्मी से आरोपियों की तलाश कर रही हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 16, 2020, 11:38 PM IST

बलिया. उत्तर प्रदेश के बलिया (Balia Murder Case) में खुली पंचायत में अधेड़ की हत्या मामले में अब तक एक नामजद आरोपी समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. वहीं मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह (Dheerendra Singh) अभी भी फरार है. पुलिस की कई टीमें उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही हैं लेकिन सफलता उनके हाथ नहीं लग सकी है.

सभी पुलिसकर्मी निलंबित: एडीजी

बलिया डीएम हरि प्रताप शाही ने बताया कि मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह के चचेरे भाई देवेंद्र सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. वह घटना में शामिल था. डीएम ने सभी आरोपियों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने का दावा किया है. उन्होंने कहा कि धीरेंद्र सिंह ने लाइसेंसी रिवाल्वर से ही फायरिंग की घटना को अंजाम दिया.

एडीजी जोन ब्रज भूषण ने कहा कि घटना के वक्त मौजूद सभी पुलिसकर्मियों को निलम्बित कर दिया गया है. शासन ने मौके पर मौजूद अफसरों पर कार्यवाही की है. नामजद 8 आरोपियों में से 1 को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस की 10 टीमें सरगर्मी से आरोपियों की तलाश कर रही हैं. एडीजी ने कहा कि घटना को अंजाम देने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी. मामले में ऐसी कार्यवाही होगी जो नजीर बन जाए. रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव पहुंचे एडीजी ब्रजभूषण ने घटनास्थल का मुआयना किया और ग्रामीणों से पूछतांछ की.बीजेपी विधायक ने बताया सुरेंद्र सिंह को सहयोगी

उधर इस घटना को लेकर विपक्षी दल योगी सरकार पर हमलावर हैं. वहीं उधर बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह (BJP MLA Surendra Singh) ने कहा है कि आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह उनका सहयोगी रहा है. उन्होंने कहा कि मैं झूठ नहीं बोलता. धीरेंद्र सिंह बीजेपी का सहयोगी रहा है. हालांकि, उन्‍होंने गोलीकांड को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है.

जो दोषी है, उन पर पुलिस कार्रवाई करे

बीजेपी विधायक ने कहा, ‘आप लोग उसे (धीरेंद्र सिंह) आरोपी बता रहे हैं. उसके पिता को उन्होंने डंडे से मारा. किसी के पिता, किसी की माता, किसी की भाभी और किसी की बहू को लाठी, डंडे और रॉड से मारकर 6 महिला और 2 पुरुषों को घायल किया है. इस पर भी कार्रवाई होनी चाहिए. यह असाधारण घटना है.’ उन्होंने कहा कि आत्मरक्षा के लिये ही लाइसेंस गन होता है, लगता है उनके पास मरने और मारने के अलावा और कोई विकल्प नहीं था. जो दोषी है उन पर पुलिस कार्रवाई करे.

8 नामजद सहित कुल 33 के खिलाफ एफआईआर

इस बीच, डीआईजी (आजमगढ़) भी बलिया में कैंप कर रहे हैं. डीआईजी सुभाष चन्द्र दुबे ने कहा कि मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह समेत 8 नामजद और 25 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि इस केस में पुलिस की लापरवाही सामने आई है. मौके पर पकड़े जाने के बाद भी मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह भाग निकला. डीआईजी ने दावा किया कि सभी नामजद आरोपियों को पुलिस जल्द ही गिरफ्तार कर लेगी. मामले में लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी. उन्होंने बताया कि खुली पंचायत में मौजूद अफसरों के खिलाफ शासन ने कार्रवाई की है. मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नजीर बनेगी.





Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement