बक्सर के बाद नवादा के बैंक में भी घोटाला, मैनेजर-स्टाफ्स ने लगाया 92 लाख का चूना

0
1


बिहार के नवादा स्थित ग्रामीण बैंक में 92 लाख का घोटाला

Bihar Bank Scam: बिहार के बक्सर में भी ग्रामीण बैंक में घोटाला का मामला सामने आया है. नवादा में हुए 92 लाख रुपए के इस घोटाले में मैनेजर समेत तीन कर्मियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

नवादा. बिहार के बक्सर स्थित दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक (South Bihar Gramin Bank) की एक शाखा में करोड़ों रुपयों से घोटाला का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि नवादा जिले के वारसलीगंज थाना क्षेत्र स्थित ब्रांच में 92 लाख का घोटाला (Scam) का मामला सामने आया है. घोटाला सामने आया तो जांच पड़ताल के बाद थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है. बैंक की पूर्व प्रबंधक मधुलिका रानी, शाखा प्रबंधक योगेश कुमार एवं कैशियर विशाल कुमार को दर्ज प्राथमिकी में आरोपित बनाया गया है.

वर्तमान प्रबंधक विनोद कुमार द्वारा थाना को दिए एफ़आईआर की प्रति में 92 लाख 18000 रुपये वित्तीय अनियमितता का जिक्र किया गया है. कहा गया है कि 2019 में उपरोक्त तीनों बैंककर्मी दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक वारसलीगंज शाखा में कार्यरत थे. तीनों की मिलीभगत से विभिन्न जमाकर्ताओं के फिक्स डिपोजिट खातों को बंद कर दूसरे खाते में राशि का अंतरण पर रुपए का गबन कर लिया गया.

आरोपितों में तत्कालीन सहायक प्रबंधक योगेश कुमार की पदस्थापना गया जिले के टिकारी प्रखंड के मलया शाखा में थी जो निलंबित किए जा चुके हैं. शिकायत मिलने के बाद ही पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. बताया जाता है कि वारसलीगंज शाखा में पदस्थापन के दौरान उक्त कर्मियों द्वारा फिक्स्ड डिपॉजिट खातों की राशि को मॉडिफिकेशन के नाम पर निकाल लिया जाता था. बीच में ग्राहक अगर पहुंच गए तो उन्हें रुपया भुगतान कर दिया जाता था. ऐसे में बात सामने नहीं आ पाती थी. इस बीच सभी पदाधिकारियों का तबादला हो गया.

इसके बाद एक-एक कर कई ग्राहक सामने आये जिनका खाता क्लोज बताया गया. तब सूचना बैंक प्रबंधक द्वारा क्षेत्रीय प्रबंधक नवादा को दी गई इसके बाद मामले की जांच शुरू हुई है. फिलहाल मामला के सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है और इसकी जांच की जा रही है.







Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here