बंगाल चुनाव परिणाम का बिहार की सियासत पर भी पड़ेगा असर! राजद ने किया यह दावा

0
1


क्या बंगाल चुनाव बिहार की राजनीति पर भी असर डालेगी?

Bihar Politics: राजद नेता के दावे पर JDU के नेता व पूर्व मंत्री नीरज कुमार कहते हैं कि बंगाल में चुनाव स्थानीय मुद्दे पर हुए हैं. जनता जिसके मुद्दे को पसंद करेगी उसे सत्ता सौंपेगी. लेकिन, राजद के नेता जो सपने देख रहे हैं बिहार को लेकर उनका सपना, सपना ही रह जाएगा.

पटना.  पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव परिणाम 2 मई (रविवार) को आना है. वहां किसकी सरकार बनेगी यह तो भविष्य बताएगा, लेकिन इसके सियासी असर की चर्चा बिहार में शुरू हो गई है. यही वजह है कि बिहार के सियासी दलों की की निगाहें बंगाल के चुनाव नतीजों पर टिकी हुई है. दरअसल परिणाम के पहले जिस तरह से एग्ज़िट पोल आ रहे हैं उसके बाद राजनीति और गर्मा गई है. पश्चिम बंगाल चुनाव परिणाम बिहार के सियासत को भी प्रभावित करेगा, ये दावा किया है राजद के वरिष्ठ नेता श्याम रजक ने.  श्याम रजक ने दावा किया है की बंगाल में ममता दीदी की ही जीत होगी और इस जीत के बाद ना सिर्फ़ बंगाल बल्कि देश और बिहार के सियासत पर भी इसका सीधा असर पड़ना तय है. वक़्त का इंतज़ार कीजिए. जेडीयू बोली- देखते रहिए सपना वहीं, राजद नेता के दावे पर JDU के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री नीरज कुमार कहते हैं कि बंगाल में चुनाव स्थानीय मुद्दे पर हुए हैं. जनता जिसके मुद्दे को पसंद करेगी उसे सत्ता सौंपेगी, यह भविष्य बताएगा, लेकिन राजद के नेता जो सपने देख रहे हैं बिहार को लेकर उनका सपना सपना ही रह जाएगा. जेडीयू नेता ने कहा किबिहार में NDA की सरकार पूरी मज़बूती से चल रही है और जनता के विकास के मुद्दे पर चल रही है. इसके पहले भी राजद के सबसे बड़े नेताओं ने सरकार बनाने की कोशिश की थी लेकिन उसका क्या हाल हुआ लोगों ने देख लिया है.भाजपा ने कहा- टस से मस नहीं होगी राजनीति वहीं, बिहार भाजपा के नेता और बिहार सरकार के मंत्री नितिन नवीन कहते हैं कि बंगाल में भाजपा शानदार जीत हासिल करेगी. भाजपा असर डालने के लिए नहीं जीतती बल्कि जनता की सेवा करने के लिए जीत हासिल करती है. रही बात बिहार के सियासत पर असर पड़ने की तो बिहार की NDA की सरकार इतनी मज़बूत है कि किसी के हिलाने से टस से मस तक नहीं होगी. जिन्हें सपना देखना है देखते रहें. बिहार की सियासत इस तरह होगा प्रभावित
बिहार के वरिष्ठ पत्रकार और राजनीतिक विश्लेषक अरुण पांडे कहते हैं कि बंगाल के चुनाव परिणाम का असर बिहार की सियासत पर पड़ना तय है. बंगाल से जो संकेत मिल रहे हैं उससे ये तो साफ़ है कि भाजपा सबसे ज़्यादा फ़ायदे में रहने वाली है. अगर भाजपा बंगाल में जीत जाती है तो विरोध की सियासत के साथ साथ देश में इस वक़्त नरेंद्र मोदी को टक्कर देने वाला कोई भी राजनीतिक शख़्सियत नहीं रह जाएगा. अगर भाजपा की सरकार नही भी बनती है तो भी भाजपा बंगाल में शानदार प्रदर्शन को भुनाने की पूरी कोशिश करेगी. लालू यादव के बाहर आने से होगी हलचल अरुण पांडे कहते हैं कि लालू यादव के जेल से बाहर आने के बाद ये क़यास लगाए जा रहे हैं कि बिहार में NDA की सरकार को ख़तरा हो सकता है. लेकिन, अगर बंगाल में भाजपा का प्रदर्शन बेहतर रहा तो बिहार की सरकार की मज़बूती और बढ़ जाएगी और राजद के मंसूबे पर पानी फिर सकता है. साथ ही भाजपा और JDU के संबंध पर भी कोई असर नहीं पड़ेगा. जेडीयू-बीजेपी संबंध भी हो सकते हैं प्रभावित हालांकि अरुण पांडे कहते हैं कि अगर भाजपा जीती तो कांग्रेस सहित कुछ छोटी पार्टियों के विधायकों के टूट का ख़तरा बढ़ जाएगा. अगर बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार बन जाती है तो उसका फ़ायदा बिहार में राजद उठाने की पूरी कोशिश करेगा. वही JDU और भाजपा के संबंध पर भी असर हो सकता है. बहरहाल अब सारी नज़रें बंगाल चुनाव परिणाम पर टिक गई हैं.







Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here