फ्रांस: पैगंबर का कार्टून दिखाने पर हत्या, हमलावर निकला चेचन्या का युवक

0
1


फ्रांस में पैगंबर का कार्टून दिखाने पर एक शिक्षक की हत्या के बाद 9 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. PHOTO: AP

फ्रांस के पुलिस अधिकारियों ने कहा कि पेरिस के पास हुए एक हमले में एक हिस्ट्री टीचर की हत्या (Murder Of A History Teacher) के बाद पुलिस द्वारा जिस संदिग्ध को गोली मारी गई थी वह चेचन्या का 18 साल का एक लड़का था.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 18, 2020, 1:51 PM IST

पेरिस. फ्रांस में शिक्षक का सिर काटने (Beaheaded) वाले मामले में संदिग्ध एक चेचन्या का किशोर (Chechenya) था. फ्रांस के एंटी-प्रॉसिक्यूटर ऑफिस ने बताया है कि शुक्रवार को कॉनफ्लान्स-सैंटे-ओनोरिना में सैमुअल पैटी की नृशंस हत्या के मामले में हमलावर के दादा, माता-पिता और हमलावर के 17 वर्षीय भाई सहित नौ संदिग्धों को गिरफ्तार (Nine Accused Arrested) किया है. अधिकारियों ने शनिवार को कहा कि पेरिस के पास हुए एक हमले में एक हिस्ट्री टीचर की हत्या के बाद पुलिस द्वारा जिस संदिग्ध को गोली मारी गई थी वह चेचन्या का 18 साल का एक लड़का था.

शिक्षक ने नंगी तस्वीर दिखाकर कहा था- ये पैगंबर है

अभियोजक के अनुसार हमलावर लड़के के पिता को अधिकारी पहले से पहचानते थे क्योंकि उसकी सौतेली बहन 2014 में इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह (आईएस, रूस में प्रतिबंधित) में शामिल हो गई थी. हाल ही में हमलावर के पिता ने ट्विटर पर एक वीडियो भी पोस्ट किया था. पोस्ट किए गए इस वीडियो में इस व्यक्ति ने खुद को एक छात्र के पिता के रूप में वर्णित करते हुए यह दावा किया कि इतिहास के शिक्षक पैटी ने छात्रों को एक नग्न व्यक्ति की छवि दिखाते हुए कहा कि यह मुसलमानों का पैगंबर था.

हमलावर के पिता ने सुनाई पूरी घटनावीडियो में इसके बाद हमलावर के पिता ने पूरी घटना बताई कि किस तरह शिक्षक ने चित्र दिखाने से पहले मुस्लिम बच्चों को अपना हाथ उठाने और उसके बाद उन्हें कक्षा से बाहर जाने के लिए कहा क्योंकि शिक्षक ने बच्चों को कुछ चौंकाने वाला दिखाने की योजना बनाई थी. इसके बाद हमलावर के पिता ने वीडियो में प्रश्न उठाया कि वह शिक्षक बच्चों को क्या संदेश देना चाहता था. यह किस तरह की नफरत है?

ये भी पढ़ें: चीन ने भारतीय सीमा के पास दागी मिसाइलें, जारी किया 

फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाने पर शिक्षक की गला रेतकर हत्या

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इतिहास शिक्षक पैटी ने अपनी कक्षा में इस्लाम के पैगंबर मुहम्मद साहब के कार्टून पर चर्चा की जिस कारण एक बच्चे के अभिभावक ने उनकी शिकायत की और उन्हें धमकी भी दी. इस्लाम में मूर्तिपूजा का निषेध होने के कारण पैगंबर मुहम्मद साहब की छवियों को बनाने पर प्रतिबंध प्रतिबंध है. प्रॉसिक्यूटर ऑफिस ने कहा कि फ्रेंच एंटी-टेररिज्म प्रॉसिक्यूटर ने हत्या के लिए एक जांच एक संदिग्ध आतंकवादी मकसद के साथ शुरू कर दी है.





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here