पीजीआई इंप्लाइज यूनियन ने स्कूटर कार रैली निकालकर जताया विरोध

0
1


चंडीगढ़5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पीजीआई प्रबंधन की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करते कर्मचारी।

  • सेक्टर-25 स्थित रैली ग्राउंड में पीजीआई प्रबंधन की नीतियों के खिलाफ जताया राेष

पीजीआई इम्प्लॉइज यूनियन नॉन फैकल्टी स्टाफ के बैनर तले कर्मचारियों ने शनिवार को कार व स्कूटर रैली निकालकर प्रशासन की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान सेक्टर-25 स्थित रैली ग्राउंड में पीजीआई प्रबंधन का पुतला जलाकर प्रबंधन की नीतियों के खिलाफ नारेबाजी की।

एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विनी कुमार मुंजाल ने बताया कि हाईकोर्ट के आदेशों की अवहेलना कर पीजीआई प्रबंधन मनमानी कर रहा है। 28 साल के बाद कर्मचारियों को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से जिस केस को जीता उसे भी लागू करने में पीजीआई प्रबंधन अड़ियल रवैया अपना रहा है।

उन्होंने बताया कि पीजीआई मेडिकल टेक्नोलॉजी एसोसिएशन के केस में सेकंड काडर रिव्यू की सिफारिशों को लागू करने के लिए हाईकोर्ट ने आदेश दे दिया है। उसके बावजूद उन्हें लागू न करते हुए कर्मचारियों का हक छीना जा रहा है। इसके अलावा पेशेंट केयर एलाउंस जिसे पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के साथ ही फाइनेंस मिनिस्ट्री व हेल्थ मिनिस्ट्री की अनुमति मिल चुकी है उसे भी लागू करने में अनदेखी की जा रही है। इसके साथ ही बैकलॉग प्रमोशन स्कीम के तहत 8 साल पर हर कर्मचारी को प्रमोशन दिए जाने की योजना के हाईकोर्ट के निर्देशों के बावजूद लागू नहीं किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि यह तीनों ही यूनियन को 28 साल का वक्त लगा। इतनी लंबी लड़ाई लड़ने के बावजूद कर्मचारियों को इसके बेनिफिट से वंचित किया जा रहा है। इसलिए कर्मचारी एकजुट होकर पीजीआई प्रबंधन की अनदेखी की निंदा कर रहे हैं। इसी क्रम में निश्चित समय तय कर किसी शनिवार को रैली निकालकर गवर्नर को इस संदर्भ में ज्ञापन सौंपा।



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here