पसली के दर्द को नजरअंदाज करने से हो सकती हैं गंभीर समस्या, जानें इसके उपचार के बारे में

0
2


शरीर की पाचन समस्या खराब होने के कारण अधिकतर लोगों को पसलियों में दर्द होता है.

पसलियों (Ribs) में चोट लगने के अलावा किडनी में दर्द, अपच की समस्या, पेट में छाले या सीने में जलन की वजह से पसली में दर्द हो सकता है.



  • Last Updated:
    December 24, 2020, 6:30 AM IST

शरीर की पसलियां (Ribs) घुमावदार होती हैं, जो रीढ़ की हड्डी (Spinal Cord) से जुड़ी हुई होती हैं. पसलियों के ढांचे के अंदर दिल, फेफड़े व कुछ अन्य अंग सुरक्षित रहते हैं, लेकिन यदि पसलियों में किसी प्रकार की चोट लग जाए तो इससे कई गंभीर समस्याएं खड़ी हो सकती हैं. इसलिए समय रहते पसलियों का इलाज करवाना जरूरी होता है. पसलियों का दर्द सीने या नाभि के ऊपर की ओर महसूस हो सकता है. पसलियों में दर्द के कई कारण हो सकते हैं. आइए जानते हैं इन कारणों के साथ साथ इसके लक्षणों और उपचार के बारे में.

पसली में दर्द का कारण

myUpchar के अनुसार, पसलियों में चोट लगने के अलावा किडनी में दर्द, अपच की समस्या, पेट में छाले या सीने में जलन की वजह से पसली में दर्द हो सकता है. फाइब्रोमाल्जिया जैसी समस्या में पसलियों के साथ साथ पूरे शरीर में दर्द हो सकता है. मांसपेशियों में दर्द की वजह से भी पसलियों में दर्द की समस्या हो सकती है. यही नहीं, पसली में दर्द कुछ बीमारियों की वजह से भी हो सकता है, जैसे इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज, जिसमें पेट में दर्द और ऐंठन होती है. इसके अलावा फेफड़ों के कैंसर के कारण भी पसलियों में दर्द हो सकता है.डॉक्टर से परामर्श की जरूरत

जब रिब केज के बाईं ओर अत्यधिक दर्द महसूस होता है तो डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए. यदि सांस लेने में अधिक कठिनाई हो रही हो या पसली में दर्द के साथ चक्कर आना, सिर घूमना या बहुत अधिक पसीना आ रहा हो तो ऐसे में भी डॉक्टर से परामर्श लेनी चाहिए. पसलियों में दर्द होने पर डॉक्टर पहले पसलियों और आसपास के हिस्सों का परीक्षण करते हैं. जरूरत पड़ने पर वह एमआरआई, सीटी स्कैन, एक्स रे आदि तकनीकि की मदद ले सकते हैं.

पसली के दर्द का इलाज

myUpchar के अनुसार, यदि पसलियों में दर्द की समस्या रहती है तो इसके सटीक कारण का पता लगाना बेहद जरूरी है. कई लोग दर्द के लिए पेरासिटामोल या कोई भी दर्द निवारक दवा लेकर काम चला लेते हैं, लेकिन कई मामले में दर्द निवारक दवाएं केवल कुछ ही समय के लिए काम करती हैं. ऐसे में डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी होता है. यदि किसी सूजन की वजन से बाईं ओर की पसलियों में दर्द है तो इसके लिए डॉक्टर से सलाह लेकर सूजन कम करने की दवाएं ली जा सकती हैं. इसके अतिरिक्त यदि कोई बैक्टीरियल इंफेक्शन है तो इसके लिए डॉक्टर एंटीबायोटिक दवाएं दे सकते हैं. कुछ अन्य कारणों के वजह से भी पसलियों में दर्द हो सकता है, जिसके लिए घरेलू उपचार कारगर हो सकते हैं, लेकिन गंभीर मामलो में चिकित्सकीय उपचार ही उचित होता है.

पसली में दर्द से बचाव के लिए अपनाएं कुछ उपाय

शरीर की पाचन समस्या खराब होने के कारण अधिकतर लोगों को पसलियों में दर्द होता है, इसके लिए ऐसे खाने से परहेज करना चाहिए जो अपच पैदा करते हैं, जैसे मैदा या  कोई फास्ट फूड. मांसपेशियों की मजबूती के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड वाली चीजें और विटामिन-डी से भरपूर चीजें लेना चाहिए.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, पसली में दर्द के लक्षण, कारण, निदान और इलाज पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here