पटना में बालू घाट पर वर्चस्व को लेकर गैंगवार, लगातार तीन दिनों से जारी है फायरिंग

0
11


पटना. पटना में बालू घाटों पर वर्चस्व की लड़ाई को लेकर एक बार फिर से बंदूक गरजीं हैं. मामला पटना से सटे दानापुर इलाके का है जहां के बिहटा और मनेर से सटे सोन घाटों पर लाल बालू के वर्चस्व को लेकर फौजिया और सिपाही के गुट आमने-सामने भिड़े. इस दौरान दोनों तरफ से जमकर गोलीबारी (Firing In Patna) की घटना को अंजाम दिया गया. दोनों गुट एक दूसरे के खून के प्यासे हैं. पता नहीं कब किसके तरफ से लाशें गिर जाएं. गुरुवार से शुरू हुई गोलीबारी शनिवार को भी जारी रही जिसकी आवाजें सोन किनारे के कई गांव के लोगों को सुनाई पड़ती रहीं. इस गोलीबारी में आसपास के ग्रामीण दहशत में जी रहे हैं.

बताया जाता है कि बुधवार को खनन विभाग के अधिकारियों ने अवैध खनन पर छापेमारी की थी. छापेमारी में आधा दर्जन पोकलेन मशीन को जब्त किया गया था. उसके बाद फौजिया गुट द्वारा सिपाही गुट के एक पोकलेन मशीन पर जबरन अपना कब्जा जमाने के लिए ताबाड़तोड़ फायरिंग करना शुरू कर दिया गयां जहां दूसरे पक्ष के लोगों ने भी जवाबी फायरिंग करते हुए इसका जवाब दिया. इलाके में लगातार 72 घण्टे से दोनों गुटों के बीच फायरिंग जारी है. इस सम्बंध में ग्रामीणों ने बताया कि लगातार कई दिनों से महुई महाल बालू घाट पर अपने वर्चस्व को लेकर दो गुटों में जमकर फायरिंग की जारी है.

शनिवार को सारे दिन गोलियां चलने की आवाजे आती रहीं. इस गोलीबारी होने से हम सब लोग डर के साये में रहने को मजबूर हैं लेकिन पुलिस- प्रशासन सब कुछ जानते हुए भी अनाजन बन कर बैठी रहती है. इस सम्बंध में स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों ने कहा कि हमारे इलाके में कोई गोलीबारी की घटना नहीं हुई है और इस मामले में अभी तक कोई शिकायत कराने भी नहीं आया है. पुलिस का कहना है कि अगर कोई शिकायत कराने आया तो निश्चित तौर पर कार्रवाई की जायेगी.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here