पंजाब के कप्तान केएल राहुल का बड़ा बयान- 1 शॉर्ट रन के फैसले ने हमें IPL से बाहर कर दिया

0
2


केएल राहुल ने शॉर्ट रन के फैसले पर सवाल उठाया है

IPL 2020: रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 9 विकेट से हरा दिया. इस हार के साथ ही पंजाब की टीम आईपीएल के मौजूदा सीज़न से बाहर हो गई.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 2, 2020, 6:58 AM IST

अबूधाबी. किंग्स इलेवन पंजाब  (KXIP) की टीम आईपीएल से बाहर हो गई है. रविवार को आखिरी लीग मैच में पंजाब की टीम को चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने हरा दिया. हार के बाद कप्तान लोकेश राहुल (KL Rahul) ने प्लेऑफ की दौड़ से बाहर होने के बाद कहा कि दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के खिलाफ 20 सितंबर को शॉर्ट रन का फैसला उनकी टीम को भारी पड़ा. बता दें कि टूर्नामेंट के शुरुआती दौर में लगातार हार के बाद पंजाब की टीम ने ज़ोरदार वापसी की थी. पंजाब को बाद में लगातार 5 मैचों में जीत मिली थी. लेकिन लगातार दो हार ने पंजाब की उम्मीदों को खत्म कर दिया.

शॉर्ट रन के फैसले से अब भी निराश हैं राहुल
राहुल ने चन्नई के खिलाफ नौ विकेट से मैच गंवाने के कहा, ‘ये निराशाजनक रहा. कई मैचों में अच्छी स्थिति में होने के बाद भी हम नतीजों को अपने पक्ष में नहीं कर पाए. इसके जिम्मेदार हम खुद हैं. वो शॉर्ट रन (20 सितंबर को दिल्ली के खिलाफ) हमें महंगा पड़ा.हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की. ये दबाव वाला मैच था , हमें उम्मीद थी कि हम 180-190 रन का स्कोर करेंगे. हम दबाव को झेलने में विफल रहे.’
क्या है शॉर्ट रन का पूरा मामला?20 सितंबर को दिल्ली के खिलाफ पंजाब के सामने जीत के लिए 157 रनों का लक्ष्य था. आखिरी 10 गेंदों पर पंजाब को जीत के लिए 21 रन बनाने थे. 19 वें ओवर में गेंदबाजी के लिए कैगिसो रबाडा आए. मयंक अग्रवाल ने उनकी दूसरी गेंद पर चौका जड़ दिया. रबाडा की अगले गेंद यॉर्कर थी, जिसे मिड-ऑन की तरफ खेल कर अग्रावाल ने दो रन रन पूरे किए. दूसरे छोर से क्रिस जॉर्डन बैटिंग कर रहे थे. लेकिन अंपायर ने नितिन मेनन ने इसे शॉर्ट रन करार दिया. उन्होंने दूसरे अंपायर से बातचीत कर कहा कि जॉर्डन ने अपना पहला रन पूरा करते समय बल्ले को क्रीज के अंदर नहीं रखा. ऐसे में यहां पंजाब को सिर्फ 1 रन दिया गया. टिवी के स्लो मोशन रिप्ले में साफ-साफ देखा गया कि जॉर्डन का ये शॉर्ट रन नहीं था. उन्होंने बल्ले को सही तरीके से रखा था. लिहाजा एक रन की कमी से मैच टाई हो गया. बाद में में सुप्र ओवर में दिल्ली को जीत मिल गई.

ये भी पढ़ें:- IPL Playoff: KKR का दावा मजबूत, पर SRH जीता तो छाएंगे संकट के बादल, समझें पूरा गणित

हम लगातार अच्छा नहीं खेले
राहुल ने टूर्नामेंट के 14 मैचों में 670 रन बनाये. उन्होंने कहा कि टीम के प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रही. उन्होंने कहा, ‘टीम ने अच्छा क्रिकेट खेला लेकिन हमारे प्रदर्शन में निरंतरता नहीं थी. शुरुआती मैचों में टीम की गेंदबाजी और बल्लेबाजी एक साथ नहीं चली, लेकिन बाद के मैचों में हमने जैसी वापसी की उस पर हमे फख्र है.’





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here