नवंबर 2000 में सांसद निधि से उड़ा लिए 89 लाख रुपये, सांसद को पता चला इस साल, जानें पूरा मामला

0
4


मिथिलेश कुमार सिंह

साहेबगंज.‌ बिहार के महाराजगंज से सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल को भी साइबर अपराधियों ने नहीं बख्शा था. साइबर अपराधियों ने उनके चेक की क्लोनिंग कर उनके सरकारी खाते से 1-2 लाख नहीं, बल्कि पूरे 89 लाख रुपये निकाल लिए थे. इसके बाद पुलिस ने जाल बिछाया और एक-एक कर मामले में संलिप्त 5 लोगों को धर दबोचा.

सॉफ्टवेयर इंजीनियर निकला साइबर अपराधी

पुलिस ने इस मामले में कोलकाता में काम करने वाले अतुल शक्ति को साहेबगंज स्टेशन से गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि आरोपी अतुल शक्ति सॉफ्टवेयर इंजीनियर है. वह बीआइटी मेसरा रांची से पढ़ा है. उसके पिता साहिबगंज जिरवाबाड़ी में मेडिकल दुकान चलाते हैं. पुलिस सूत्रों ने बताया कि 4 नवंबर 2020 को एक ही दिन में दो चेक की क्लोनिंग की गई और फर्जी तरीके से 47 और 42 लाख रुपये यानी कुल 89 लाख रुपये की निकासी की गई. ये निकासी महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के सांसद निधि खाते से की गई थी.

सांसद को फरवरी में पता चली धोखाधड़ी की बात

सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल को इस धोखाधड़ी के बारे में इस साल फरवरी में पता चला. शुरुआती जांच में पता चला कि सांसद के सरकारी खाते के क्लोन चेक के जरिए ये पैसे निकलवाए गए हैं. पुलिस जांच में यह भी पता चला कि 89 लाख रुपये की यह रकम महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले की बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा में संदीप नाम के एक व्यक्ति के अकाउंट में ट्रांसफर हुए हैं. इन जानकारियों के बाद केस दर्ज कर जांच शुरू की गई.

ट्रेन में पीछा कर साइबर अपराधी को दबोचा

मोबाइल लोकेशन के आधार पर बिहार पुलिस कोलकाता से युवक का पीछा कर रही थी. बुधवार की सुबह हावड़ा-जमालपुर एक्सप्रेस से यहां उतरते ही उसे पकड़ लिया गया. साहेबगंज एसपी अनुरंजन किस्पोट्टा ने बताया कि सांसद सिग्रीवाल की सांसद निधि से लाखों की अवैध निकासी के मामले में तकनीकी साक्ष्य के आधार पर आरोपी को पकड़ा गया है. पटना पुलिस ने आरोपी सॉफ्टवेयर इंजीनियर को ट्रांजिट रिमांड पर ले लिया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here