दिल्ली में ये है बंटा लेमन की सबसे पहली दुकान, आजादी से पहले कर रही सबके गले तर

0
4


(डॉ. रामेश्वर दयाल)

दिल्ली (Delhi) में आजकल गर्मी और उमस से बुरा हाल है. ऐसे में अगर राह चलते कुछ ठंडा पीने को मिल जाए तो गर्मी से हलकान तन और मन को कुछ शांति मिल जाएगी. इसके लिए हम आपको ठंडा-ठंडा स्पेशल नींबू लेमन पिलवाते हैं. इसका स्वाद इसलिए भी अनोखा है कि इसमें दस साबुत मसालों को पीसकर खास मसाला डाला जाता है. दुकानदार का दावा है कि उनके परिवार ने ही दिल्ली में नींबू-लेमन पिलाने की परंपरा शुरू की, जो आज पूरी दिल्ली में बंटा लेमन (Banta Lemon) के तौर पर मशहूर है.

लेमन में नींबू का आकर्षण

इसमें दो-राय नहीं कि राजधानी में कोल्ड ड्रिंक्स में को लेकर खासी चाहत है और अगर बाजार में नींबू लेमन मिल जाए तो मजा ही दोगुना हो जाता है. लोगों को लगता है कि गर्मी में नींबू का सेवन लाभकारी है. तो आज हम दिल्ली के पुराने नींबू लेमन वाले से मिलवाते हैं. जब लाल किला से चांदनी चौक की ओर घुसेंगे तो नई सड़क पार करते ही बायीं ओर पंडित वेदप्रकाश लेमन वाले की एक छोटी सी दुकान है. लेकिन उसके बाहर लेमन पीने वालों की तादाद जाहिर कर देती है कि यहां के लेमन की बात ही और है. दुकान में नींबू लेमन के अलावा कुछ नहीं बेचा जाता और उसको लेकर ज्यादा तामझाम भी नहीं है.

दुकान में नींबू लेमन के अलावा कुछ नहीं बेचा जाता

फचाक से खुलती है लेमन की बोतल

नीचे दुकान पर बाहर खड़े लोगों से ऑर्डर लिया जाता है और ऊपर बनी मचान पर बैठे लड़के को तेज आवाज में बताया जाता है कि कितने नींबू लेमन बनाने है. वह लड़का गिलास में चूरा बर्फ के साथ तेजी से नींबू और स्पेशल मसाला डालता है और फचाक से कंचे वाली लेमन को खोलकर गिलास में डालकर नीचे भेज देता है. ग्राहक दुकान के बाहर ही खड़े होते हैं वह इस ठंडे पेय को पीते हैं, तृप्त होते हैं और पैसे देकर आगे चल देते हैं.

यह भी पढ़ें: दिल्ली की पराठें वाली गली जहां मिलते हैं 25 किस्म के पराठें, जानें सब कुछ

दावा: हमने शुरू किया नींबू लेमन का कॉम्बिनेशन

इस नींबू लेमन का दाम 20 रुपये है. अगर सिर्फ कंचे वाली लेमन पीनी है तो वह 10 रुपये में मिलेगी. इस दुकान को आजकल प्रिंस व चेतन चला रहे हैं. उनका कहना है कि आजादी से पहले उनके पूर्वज प्यारेलाल ने इस दुकान को शुरू किया था. आज चौथी पीढ़ी यह दुकान चला रही है. उनका दावा है कि उनके परिवार वालों ने ही दिल्ली में नींबू लेमन पिलाने का काम शुरू किया जो अब दिल्ली में अनेकों जगहों पर मिलता है. वे कहते हैं कि उनकी दुकान पर लोग इसलिए खींचे चले आते हैं क्योंकि हम खारी बावली से दस प्रकार के खड़े (साबुत) मसाले खरीदकर लाते हैं. फिर उन्हें साफ-सुथरा और पीसकर स्पेशल मसाला तैयार करते हें जो इस ड्रिंक्स को अलग ही रंगत देता है.

सातों दिन लीजिए पीने का मजा

आजकल कोरोना बीमारी को लेकर बाजार खोलने को लेकर नियम चल रहे हैं, वरना आम दिनों में यह दुकान सुबह 11 बजे खुल जाती है और रात 10:30 बजे तक खुली रहती है. इस दुकान का लैंडमार्क यह भी है कि यह टाउनहॉल के सामने है. असल में इस दुकान के बाहर लेमन पीती भीड़ लोगों को आकर्षित करती है और वे जिज्ञासावश नींबू लेमन को पीने के लिए हाथ बढ़ा देते हैं.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here