दलितों को इंसाफ दिलाने के लिए गांवों का दौरा: AAP  नेता चीमा ने कहा- कैप्टन अमरिंदर सिंह के अधीन विभागों में न तो दलित मुलाजिमों की भर्ती की गई और न ही उन्हें तरक्कियों का लाभ मिला

0
2


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • AAP Leader Cheema Said Neither Dalit Employees Were Recruited Nor Did They Get The Benefit Of Promotions In The Departments Under Captain Amarinder Singh

चंडीगढ़एक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

AAP नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी दलित वर्ग के लोगों के लिए कुछ नहीं कर रही।

  • दलित वर्गों के संवैधानिक हकों को लागू करवाने के लिए गांव-गांव जाएगी आप

AAP नेता हरपाल सिंह चीमा ने दोष लगाते हुए कहा है कि कांग्रेस,अकाली दल और भाजपा की ओर से हमेशा दलित समाज का इस्तेमाल किया गया है। आप पंजाब के सीनियर नेता और नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने राज खोलते हुए बताया कि पंजाब की सत्ता पर क़ाबिज़ रही इन पार्टियों ने दलित वर्ग के व्यक्तियों को नौकरियां देने और दलित मुलाजि़मों को तरकि़्कय़ां देने के लिए आरक्षण नीति के अंतर्गत मिले हक पर लुटा है। उन्होंने दोष लगाया कि कांग्रेस पार्टी, अकाली दल बादल और भारतीय जनता पार्टी की सरकारों ने दलितों के विरोध में फैसले लिए और उसे लागू किया हैं।

गुरुवार को पार्टी के चंडीगढ़ स्थित मुख्य दफ्तर में मीडिया के समक्ष आरक्षण नीति में उल्लंघन का खुलासा करते हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के अधीन विभागों में न तो दलित मुलाजि़मों की भर्ती की गई और न ही दलित मुलाजि़मों को तरक्कियों का लाभ दिया गया है। चीमा ने बताया कि पंजाब के कर और आबकारी विभाग में ई.टी.ओ की बैकलॉग वाली 35 पोस्टों पर साल 2010 से 2022 तक कोई दलित मुलाजि़म भर्ती नहीं किया गया।

इसी तरह पंजाब पुलिस विभाग में 24 पीपीएस अधिकारियों को तरकि़्कय़ां देकर आईपीएस बनाए अधिकारियों में एक भी दलित वर्ग का पीपीएस अधिकारी शामिल नहीं किया गया। जबकि दलित नौजवानों के उच्च नौकरी प्राप्त करने के हक पर डाका मारते हुए कैप्टन सरकार ने पीसीएस जुडिशियल परीक्षा में बैठने में कई मौकों में केवल चार मौकों तक ही सीमित करने के लिए चुपचाप नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

इसी तरह 2 लाख से ज़्यादा दलित स्टूडेंट को शिक्षा से वंचित रखने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वजीफे की रकम का भी घपला कर दिया। आप नेता चीमा ने दोष लगाया कि अगर कैप्टन अमरिंदर सिंह के सीधे तौर पर अधीन विभागों में दलितों के हकों को लुटा जा रहा है तो पंजाब सरकार के बाकी विभागों में क्या हाल होगा। अगर पंजाब सरकार के सभी विभागों के रोस्टर चैक करवाए जाएं तो दलित वर्ग से संबंधित हजारों पोस्ट खाली पड़ीं हुई मिलेंगी।

हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि आम आदमी पार्टी कांग्रेस सरकार के खिलाफ बड़ा संघर्ष शुरू करेगी। उन्होंने कहा आम आदमी पार्टी दलित वर्गों के संवैधानिक हकों को लागू करवाने के लिए गांव-गांव जाएगी और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर का घेराव भी करेगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here