डॉ. रमन सिंह के ट्वीट पर बवाल, रायपुर पुलिस ने लिखा- महोदय आपकी जानकारी सही नहीं’

0
3


छत्तीसगढ़ पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने भी ट्वीट कर डॉ. रमन सिंह पर निशाना साधा.

प्रदेश के पूर्व CM डॉ रमन सिंह ने ट्विटर पर बीएड-डीएड प्रशिक्षणार्थियों की गिरफ्तारी का जिक्र किया. सुबह इस मामले में खूब चर्चा हुई. बाद में संगठन के ही पदाधिकारियों ने बयान जारी किया कि किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है. रायपुर पुलिस ने भी ट्वीट कर डॉ. रमन सिंह को लिखा कि किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

राजधानी. रायपुर में आज बीएड-डीएड प्रशिक्षणार्थियों के प्रदर्शन को लेकर दिनभर सियासत गरमाई रही. दरअसल छत्तीसगढ़ के प्रशिक्षित डीएड-बीएड संघ ने मंगलवार को रायपुर में धरना-प्रदर्शन रैली और सीएम हाउस घेराव का कार्यक्रम रखा था. कार्यक्रम से एक दिन पहले कल रात को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.  रमन सिंह ने एक ट्वीट कर आरोप लगाया कि प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने पहले ही हिरासत में ले लिया है. हालांकि तय समय पर यह आंदोलन शुरू नहीं हुआ तो फिर तर-तरह की बयानबाजी होने लगी. सोमवार रात से चूंकि यह वायरल हो रहा था कि इस संघ के प्रदेश अध्यक्ष दाउद खान को पुलिस ने विरोध प्रदर्शन से पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया है. प्रदेश के पूर्व CM डॉ रमन सिंह ने ट्विटर पर इस गिरफ्तारी का जिक्र किया. सुबह इस मामले में खूब चर्चा हुई. बाद में संघ के ही पदाधिकारियों ने यह बयान जारी किया कि किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है.

चूंकि जिला प्रशासन ने किसी भी तरह की अनुमति नहीं दी है. साथ ही संक्रमण फैलने की समझाइश दी है, ऐसे में वो एक सांकेतिक धरना प्रदर्शन बूढ़ातालाब धरना स्थल पर करेंगे. डीएड-बीएड संघ के अध्यक्ष दाऊद खान ने कहा कि उन्हें धमकाया गया इसलिए उन्हें धरना स्थगित करना पड़ा. इसके बाद कांग्रेस ने जिन पदाधिकारियों ने बिना दबाव धरना स्थगित करने की बात कही थी, उनका बयान ट्वीट कर डॉ रमन सिंह के दावे को झूठा बताया. कांग्रेस ने एक के बाद एक ट्वीट करके पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के ट्वीट को लेकर रमन सिंह पर निशाना साधा.

पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने भी ट्वीट कर डॉक्टर रमन सिंह पर निशाना साधा. मोहन मरकाम ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह पर बीएड-डीएड प्रशिक्षणार्थियों की गिरफ्तारी के आरोप वाले ट्वीट पर निशाना साधते लिखा कि छत्तीसगढ़ के 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे डॉक्टर रमन सिंह द्वारा भाजपा आईटी सेल के एक ट्रोल की भांति झूठ और दुष्प्रचार फैलाना बेहद शर्मनाक है. इतनी ओछी राजनीति करके आपको क्या मिलेगा डॉक्टर साहब? जिनके बारे में आप लिख रहे हैं, वो स्वयं ही आपको बेनकाब कर रहे हैं. झूठ फैलाना बन्द कीजिए.

वहीं इसके बाद रायपुर एसएसपी अजय यादव ने भी इस बात से इनकार किया कि किसी की गिरफ्तारी हुई है. बात यहीं तक नहीं रुकी, रायपुर पुलिस ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर डॉ. रमन सिंह को लिखा कि महोदय यह बात झूठी है कि किसी की गिरफ्तारी हुई है. इसी बीच शिक्षक अभ्यर्थी संघ के इन लोगों ने शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम से मुलाकात की. उन्हें अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन दिया. साथ ही मुलाकात को सार्थक भी बताया. जल्द मांगे नहीं पूरी होने पर आंदोलन की चेतावनी दी.







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here