जिले में नए मिले 261 केस के साथ ही 23 हजार के पार पहुंचे कोरोना वायरस पेशेंट, दो पेशेंट ने दम तोड़ा

0
1


गुड़गांव10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • अब दोबारा होगा सर्वे, अगस्त में हुए सर्वे में 9 फीसदी लोगों के संक्रमित होने की आई थी रिपोर्ट
  • अक्टूबर के नौ दिन में 27 हजार से अधिक लोगों की टेस्टिंग की गई है

गुड़गांव में रोजाना तीन हजार से अधिक लोगों की सैंपलिंग व टेस्टिंग की जा रही है, लेकिन कोरोना से संक्रमित मिलने वाला आंकड़ा कम नहीं हो रहा है। अक्टूबर महीने के नौ दिन में 27 हजार से अधिक लोगों की टेस्टिंग की गई है, जिनमें से 2323 पॉजिटिव केस मिले हैं, जबकि 2291 पेशेंट ठीक हो चुके हैं। वहीं 10 लोगों ने संक्रमण से दम तोड़ दिया।

अब प्रदेश में सबसे अधिक पॉजिटिव केस भी गुड़गांव में मिल रहे हैं। हालांकि राहत की बात है कि यहां सबसे अधिक पेशेंट रिकवर होकर घर लौट चुके हैं। शुक्रवार को भी दो पेशेंट ने दम तोड़ दिया, जिससे अब तक कोरोना से जिला में 183 लोग दम तोड़ चुके हैं। वहीं अब स्वास्थ्य विभाग ने एक बार फिर सीरो सर्वे कराने की तैयारी कर ली है। अब 750 लोगों पर यह सर्वे किया जाएगा।

जिला में शुक्रवार को भी 261 नए केस मिले, जबकि 230 ठीक होकर घर लौट गए। वहीं एक्टिव केस में इजाफा होकर 2429 हो गए। साथ ही कुल संक्रमित का आंकड़ा बढकर 23022 तक पहुंच गया। शुक्रवार को भी शहरी क्षेत्र में ही अधिक पॉजिटिव केस मिले। जबकि ग्रामीण क्षेत्र में मात्र 19 केस सामने आए। वहीं जबकि नगर निगम के जोन-1 में 47, जोन-2 में 69, जोन-3 में 71 व जोन-4 में 55 नए केस मिले।

16 कलस्टरों में 750 लोगों पर होगा सीरो सर्वे
कोविड-19 को लेकर किए जाने वाले सीरो सर्वे अध्ययन के लिए शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में जगहों को चिह्नित कर लिया गया है। यह सर्वे जल्द ही होगा जिससे यह पता लगाया जा सके कि कितने प्रतिशत लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार यह सर्वे जिला के 16 कलस्टरों में 750 लोगों पर किए जाने की योजना है।

सीएमओ डा. वीरेंद्र यादव ने बताया कि जिला में सीरो सर्वे अध्ययन के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस सर्वे के लिए किट प्राप्त हो चुकी है तथा ड्यूटी पर तैनात होने वाले स्टाफ को भी ट्रेनिंग दी जा चुकी है। जिला के 4 शहरी क्षेत्रों तथा 12 ग्रामीण क्षेत्रों में यह सर्वे किया जाएगा।

शहरी क्षेत्र में जिन 4 क्षेत्रों में यह सर्वे किया जाएगा उनमें शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (यूपीएचसी) फाजिलपुर, यूपीएचसी क्षेत्र खांडसा, यूपीएचसी नाहरपुर रूपा तथा यूपीएचसी राजेन्द्रा पार्क आदि शामिल है। उन्होंने बताया कि जिला के ग्रामीण क्षेत्रों में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) गुड़गांव गांव, डूंडाहेड़ा,चैमा ग्रामीण क्षेत्र, गढ़ी हरसरू, चंदू, बुढे़ड़ा, भौंडसी, रिठौज, ढाणी रिठौज, कासन, मानेसर, नैनवाल में सीरो सर्वे अध्ययन करवाया जाएगा।

डा. यादव ने बताया कि सीरो सर्वे के अंतर्गत ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में 750 व्यक्तियों के स्वास्थ्य की जांच करके देखा जाएगा कि उनमें कोरोना महामारी से लड़ने के लिए एंटीबॉडिज विकसित हुई हैं अथवा नहीं।



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here