Advertisement

चुनावी तैयारी के बीच मुंगेर में पुलिस-नक्सली मुठभेड़, कई नक्सलियों को लगी गोली


डीआईजी मनु महाराज के नेतृत्व में सर्च ऑपरेशन चलाया गया.

मुंगेर में सर्च अभियान के दौरान धरहरा- हवेली खड़गपुर के बॉर्डर के पास पैसरा-कदनी जंगलों के बीच पुलिस और नक्सलियों (Naxal) में मुठभेड़ (Encounter) हो गई. हालांकि बाद में नक्सली दस्ता मौके से भाग निकला.

मुंगेर. बिहार में चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हो सके, इसके लिए नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन (Anti Naxal Operation) जारी है. मुंगेर में इस ऑपरेशन के दौरान कोबरा बटालियन और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ (Encounter) हुई. इस दौरान दोनों ओर ले जमकर फायरिंग की गई. बाद में नक्सली मौके से भाग निकले. पुलिस ने घटनास्थल से ग्रेनेड, पिस्टल, रेडियो सेट और बारूद के पैकेट बरामद किये.

जिले के धरहरा-खड़गपुर बॉर्डर पर ये मुठभेड़ हुई. हालांकि इस दौरान किसी नक्सली के मारे जाने की कोई सूचना नहीं है. दरअसल पुलिस को पैसरा-कदनी पहाड़ी इलाके में नक्सलियों के जमावड़े की सूचना मिली थी. जिसके बाद कोबरा बटालियन ने धरहरा एवं हवेली खड़गपुर के पहाड़ों पर सर्च अभियान चलाया. इस दौरान धरहरा- हवेली खड़गपुर के बॉर्डर के पास पैसरा-कदनी जंगलों के बीच जवानों की नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई. हालांकि बाद में नक्सली दस्ता मौके से भाग निकला.

डीआईजी मनु महाराज के नेतृत्व में चला ऑपरेशन

डीआईजी मनु महाराज के नेतृत्व में ये ऑपरेशन चला. मनु महाराज ने कहा कि 28 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर लगातार नक्सल प्रभावित इलाकों में सर्च अभियान चलाया जा रहा है. रविवार को एसटीएफ एसएसबी, बीएसफ, सीआरपीएफ कोबरा बटालियन सहित अन्य सशस्त्र बलों द्वारा कॉम्बिंग ऑपरेशन चलाया गया. इस दौरान पैसरा-कदनी पहाड़ी इलाके में कोबरा बटालियन और नक्ससलियों के बीच मुठभेड़ हुई, जो दो से तीन घंटे तक चली. मुठभेड़ में कुछ  नक्ससलियों को गोली लगने की सूचना है.उन्होंने कहा की मुठभेड़ में महिला दस्ता को भी देखा गया. नक्सलियों के दस्ते का नेतृत्व रीजनल कमांडर परवेज दा कर रहे थे.

मुठभेड़ के बाद मौके से एक पिस्टल, दो रेडियो, एक ग्रेनेड, बारूद पैकेट, आईडी, चुनाव संबधित सामग्री आदि बरामद किये गये. फिलहाल सर्च अभियान जारी है.





Source link

Advertisement
sabhijankari:
Advertisement