ग्रीन एरिया बढ़ाने की कवायद: चंडीगढ़ में इस मानसून को ग्रीनरी इलाका बढ़ाने के लिए इस बार 1 लाख 75 हजार नए पौधे लगाए जाएंगे

0
5


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • To Increase The Greenery Area In Chandigarh This Monsoon, 1 Lakh 75 Thousand New Saplings Will Be Planted This Time.

चंडीगढ़2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़ में इस समय 46 फीसदी फाॅरेस्ट और ग्रीन कवर है, जिसको बढ़ाने की कोशिश सभी मिलकर करेंगे।

  • ग्रीन सिटी चंडीगढ़ का ग्रीन कवर 52.78% से 63.03% हुआ, 2021-2022 के लिए ग्रीनिंग एक्शन प्लान जारी
  • 10 साल में 26.33 लाख पौधे लगे, इस साल 1.75 लाख लगेंगे

शहर में वैसे तो काफी बड़ा भाग ग्रीनरी से घिरा हुआ है लेकिन इस साल और ज्यादा ग्रीनरी करने के लिए एक्शन प्लान तैयार किया गया है। कोरोना काल में जिस तरह से ऑक्सीजन गैस की ज़रुरत मरीजों को हुई उससे उन्हें पता चला कि शहर में अधिक से अधिक पेड़-पौधे लगाने से क्या फायदा मिल सकता है।

पौधे लगाने का टारगेट तय किया गया

2021-2022 के लिए जारी किए गए ग्रीनिंग एक्शन प्लान में कुल 1 लाख 75 हजार पौधे लगाए जाने का टारगेट तय किया गया है। इस टारगेट को पूरा करने के लिए फाॅरेस्ट डिपार्टमेंट 75 हजार पौधे लगाएगा। इसके अलावा प्रशासन के इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट का होर्टिकल्चर विंग 40 हजार पौधे और नगर निगम की ओर से 60 हजार पौधे लगाए जाएंगे।

लोगों व संस्थाओं को पौध रोपण में हिस्सा लेने को कहा

शहर के प्रशासक की ओर से शहर के रहने वाले लोगों और संस्थाओं काे भी पौधे लगाने के लिए अधिक से अधिक योगदान देने के लिए कहा गया है। उनके अनुसार जितनी ज्यादा संख्या में पौधे लगाए जाएंगे उससे उतना अधिक लाभ लोगों को मिल सकेगा। शहर में मानसून की आहट के साथ ही पौध-रोपण करने की शुरुआत कर दी जाती है। इस बार मानसून आने में देरी होने के कारण अभी तक पौध-रोपण शुरु नहीं हो सका है। मौसम विभाग की ओर से अगले दो दिनों में मानसून की बारिश शुरु होने वाली है जिसके बाद पौध-रोपण शुरु हो जाएगा।

प्रशासक ने एक्शन प्लान लांच किया

शहर के प्रशासक वीपी सिंह बदनोर की ओर से इस साल के लिए फाॅरेस्ट एंड वाइल्ड लाइफ डिपार्टमेंट की तरफ से तैयार किए गए ग्रीनिंग एक्शन प्लान 2021-2022 को लॉन्च कर दिया गया है। इसमें बताया गया कि इस साल 1 लाख 75 हजार नए पौधे लगाए जाएंगे। चंडीगढ़ में हर साल मानसून के दौरान ग्रीनिंग एक्शन प्लान जारी किया जाता है। इसमें तय किया जाता है कि कितने पौधे साल में लगेंगे। इस मौके पर प्रशासक ने सभी शहरवासियों, फाॅरेस्ट डिपार्टमेंट व बाकी विभागों की प्रशंसा की। इस मौके पर चीफ कंजर्वेटर ऑफ फाॅरेस्ट देबिंद्र दलाई ने कहा कि चंडीगढ़ में इस समय 46 फीसदी फाॅरेस्ट और ग्रीन कवर है, जिसको बढ़ाने की कोशिश सभी मिलकर करेंगे।

80 हजार पौधे फ्री में डिस्ट्रीब्यूटर करेगा प्रशासन
पिछले साल की तरह ही इस साल भी मानसून के दौरान फाॅरेस्ट डिपार्टमेंट की तरफ से फ्री में पौधे डिस्ट्रीब्यूटर किए जाएंगे। इसके लिए स्पेशल वैन भी चलाई जाएगी, जो पौधों की होम डिलीवरी करेगी। अफसरों के मुताबिक प्रत्येक दिन के लिए सेक्टर वाइज रूट वैन का बनाया जाएगा और जो भी लोग पौधे लेना चाहते हैं वे अपने घर के पास ही पौधे ले सकते हैं। इसमें 4-5 पौधे फ्री में दिए जाएंगे।

शहर में हर साल इतने पौधे लगाए गए

2010-11 में 2.27 लाख

2011-12 में 2.23 लाख

2012-13 में 1.86 लाख

2013-14 में 2.22 लाख

2014-15 में 2.09 लाख

2015-16 में 2.48 लाख

2016-17 में 2.54 लाख

2017-18 में 2.39 लाख

2019-20 में 2.56 लाख

2020-21 में 2.83 लाख

2021 में इस बार शहर में 1 लाख 75 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here