कोविड-19: दिल्ली में 6 लाख मरीज ठीक हुए, बुधवार को 871 नए मामले आए और 18 की मौत

0
1


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • अब तक राजधानी में 80,33,054 लोगों की जांच

बुधवार को दिल्ली सरकार की तरफ से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में 871 नए मामले आए और 18 लोगों की मौत हुई है। वहीं, 1585 मरीज ठीक हुए है। रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में अब तक 6,19,618 लोग कोरोना संक्रमित हुए। इनमें से 6,01,268 मरीज ठीक हुए है। अब तक कोरोना के कारण 10,347 मरीजों की जान गई है।

अब तक दिल्ली में 80,33,054 लोगों के कोरोना सैंपल की जांच की गई। वहीं अब दिल्ली की नई चिंता न्यू कोविड स्ट्रेन ने बढा़ दी है। सूत्रों के मुताबिक कोरोना के सबसे बड़े एलएनजेपी में न्यू कोविड स्ट्रेन के तीन सस्पेक्ट भर्ती हुए है। तीनों को अन्य मरीजों से अलग रखा गया है। इनकी जांच की जा रही है। दो से तीन दिन में उसकी रिपोर्ट आएगी।

एलएनजेपी अस्पताल के निदेशक ने कहा-

वैक्सीन लगाने के लिए शरीर में टी-सेल का मजबूत होना जरुरी

नई दिल्ली | वैक्सीन किस-किस को लगाने की जरूरत होगी और इसकी जरूरत नहीं होगी। इस संबंध में लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल के निदेशक डॉ. सुरेश कुमार का कहना है कि वैक्सीनेशन के बाद हमारे शरीर में एंटीबॉडी बनते है, जो बीमारी से लड़ने में मदद करते हैं।

लेकिन इसके लिए जरूरी है कि जो हमारे शरीर में टी-सेल्स होते हैं वह सही हो। इसलिए बीमारियों से दूर रहें, अगर पहले से लोगों में कुछ अन्य बीमारी होती हैं, तो उनके शरीर में इम्युनिटी बढ़ाने वाले टी-सेल्स कमजोर हो जाते हैं। जिससे वैक्सीनेशन के बाद एंटीबॉडी बनना मुश्किल हो सकता है।

वैक्सीन इलाज नहीं आई सेवन के निदेशक डॉ. संजय चौधरी का कहना है कि वैक्सीन आने का मतलब यह नहीं है कि यह बीमारी का इलाज है, बल्कि यह बीमारी से बचाव है। इसका मतलब यह नहीं है कि जो सावधानियां अभी बरती जा रही है, वैक्सीन लगाए जाने के बाद उनकी आवश्यकता नहीं होगी।

एंटीबॉडी के बाद वैक्सीन नहीं
वहीं मैक्स के कॉर्डियोलॉजिस्ट विवेका कुमार का कहना है कोरोना से ठीक हो चुके मरीज के शरीर में एंटीबॉडी बन गए हैं, तो हम कह सकते हैं कि उनको वैक्सीन की आवश्यकता नहीं होगी।



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here