कोविड केयर सेंटर खोलने की अपील: चंडीगढ़ प्रशासक के निर्देशों पर अस्पतालाें के फायर हाइड्रेंटस का परीक्षण किया गया,ताकि आगजनी की घटना से बचा जा सके

0
1


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • On The Instructions Of The Chandigarh Administrator, The Hospital’s Fire Hydrants Were Tested, So That Fire Incidents Could Be Avoided.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

शहर के अस्पतालों में आग बुझाने के यंत्रों की जांच की गई। डेमो फोटो

  • प्रशासक के एडवाइजर ने रोटेरियन व लायंस क्लब को इंडस्ट्री एरिया में मिनी कोविड केयर सेंटर खोलने को कहा
  • शहर के अस्पतालों में फायर हाइड्रेंटस को जांचने के लिए मॉक ड्रिल भी किया गया

देश के अन्य भागों में स्थित कुछ अस्पतालों में कुछ दिनों से आग लगने की घटनाएं हो रही है उसी को देखते हुए शहर के प्रशासक वीपी सिंह बदनाेर की ओर से आग के मुद्दों पर सावधानी बरतने को कहा गया है। प्रशासक की ओर से कहा गया है कि अस्पतालों के मेन गेट और निकास वाले गेट पर किसी तरह का अवरूद्ध नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में भर्ती मरीजों को किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में ऑक्सीजन गैस की किसी तरह से कोई कमी नहीं होनी चाहिए और न ही गैस की किसी तरह की लीकेज होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन गैस का उपयोग करने के बाद अच्छी तरह से उसे बंद किया जाए ताकि किसी प्रकार की कोई दुर्घटना से बचाव हो सके। विभाग की ओर से शहर के सेक्टर-48 के अस्पताल में आग बुझाने वाले फायर हाइड्रेंटस की जांच करवाई गई है। इसी तरह सेक्टर-32 अस्पताल के आग बुझाने वाले यंत्रों की जांच की गई है।

एडवाइजर ने लायंस व रोटेरियन क्लब को कहा सेंटर खोले

प्रशासक के एडवाइजर मनोज परिदा की ओर से शहर के रोटेरियन क्लब और लॉयंस क्लब के पदाधिकारियों को कहा कि वे अपने इलाकों में कोविड केयर सेंटरों का निर्माण करें और संक्रमित मरीजों का इलाज किया जा सके। एडवाइजर ने सोशल मीडिया पर उद्योगपतियों से अपील की है कि वे अपने कारखाना परिसरों में ही कोविड केयर सेंटर बना कर अपने कर्मचारियों की देखभाल करें।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here