कोरोना का कहर: 10 दिन में कोरोना ने ले ली 50 की जान, मरने वालों में पलवल के 13 बाकी दूसरे जिलों के, 150 नए केस मिले

0
1


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

शनिवार को 150 नए पॉजिटिव मिले।

कोरोना का कहर तेजी से बढ़ रहा है। रोज बड़ी संख्या में नए मरीज आ रहे हैं। मृत्यु दर भी बढ़ गई है। श्मशान घाट में दस दिन में करीब 50 शवों का दाह संस्कार कोरोना गाइडलाइन के तहत किया गया। जबकि सरकारी रिकॉर्ड में इन दस दिन में 13 लोगों की मौत बताई गई है। शनिवार को सबसे अधिक 150 कोरोना के नए मामले आए। जबकि 86 ठीक होकर घर पहुंच गए।

अस्पतालों में बेड खाली नहीं

वर्ष 2020 में कोरोना संक्रमण से जिले में मरने वालों का सरकारी आंकड़ा 28 था। जबकि वर्ष 2021 में यह आंकड़ा 28 से बढक़र 30 अप्रैल तक 52 पहुंच गया। इस वर्ष कोरोना से मरने वालों को यह आंकड़ा चौंकाने वाला है। कोरोना मरीजों के दाह संस्कार के लिए नूंह रोड पर कोविड श्मशान स्थल में एक दिन में 11-11 शवों का अंतिम संस्कार हो रहा है। मरने वालों में यहां के कम बाहरी जिलों के अधिक हैं। जिले में सरकारी व निजी 19 अस्पतालों को कोविड अस्पताल बनाया गया है। लेकिन इन अस्पतालों में बेड खाली नहीं है। शनिवार को कोंडल गांव के सरपंच संदीप तेवतिया ने जब अपने परिचित के लिए जिले के निजी अस्पतालों में आईसीयू बेड के लिए पता किया तो सभी ने एक ही जवाब दिया कि बेड फुल है।

क्या कहते हैं स्वास्थ्य अधिकारी

सीएमओ डॉ. ब्रह्मदीप सिंह का कहना है कि जिले में दस दिन में कोरोना संक्रमण से कुल 13 लोगों की मौत हुई है। बाकी 37 कोरोना से मरने वाले दूसरे जिलों के हैं। उन्होंने कहा पलवल में दूसरे जिलों के लोगों का भी इलाज चल रहा है। मृत्यु होने पर उनका अंमित संस्कार यहीं किया जाता है। मौत की सूचना उसके स्थानीय जिले को दे दी जाती है। इसलिए उनका रिकॉर्ड वहीं दर्ज है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here