कोरोना का कहर: मानव आवाज संस्था के संयोजक ने कह- पार्षद आरएस राठी के निधन से बंद हुई गुरुग्राम की एक आवाज

0
4


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गुरुग्राम43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पार्षद आरएस राठी- फाइल फोटो।

  • सामाजिक मुद्दों के साथ नगर निगम में भ्रष्टाचार को सदा किया उजागर
  • 12 व 13 मई को हुई थी राठी के माता-पिता की कोरोना से मौत

पार्षद आरएस राठी गुरुग्राम की आवाज थे। गुरुग्राम के मुद्दों को उन्होंने सदा प्रमुखता से उठाया। नगर निगम समेत अन्य विभागों में भ्रष्टाचार को वे सदा उजागर करते रहे। उनके निधन से गुरुग्राम को भारी क्षति हुई है। उनकी कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकेगा। यह बात मानव आवाज संस्था के संयोजक एडवोकेट अभय जैन ने दिवंगत पार्षद आरएस राठी को श्रद्धांजलि देते हुए कही। एक दिन पूर्व आरएस राठी का कोरोना संक्रमण से देहांत हो गया।

मानव आवाज संस्था उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए परिवार को इस गहरे आघात को सहने की प्रार्थना करती है। इससे पहले मई माह में ही आरएस राठी की माताजी ब्रह्मो देवी राठी का 12 मई को और पिता छोटू राम राठी का 13 मई को निधन हुआ था। किसी भी परिवार पर इससे बड़ा दुखों का पहाड़ नहीं टूट सकता। अभय जैन ने कहा कि कर्मठ व्यक्तित्व के वे धनी थी। उन्होंने जनता की भलाई के लिए सदैव कार्य किए। वे लगातार जनता से जुड़े मुद्दों, जनता की समस्याओं को प्रमुखता से उठाते। ना केवल उठाते, बल्कि उनका समाधान भी करवाते। शिक्षित और कार्यों के जानकारी आरएस राठी भले ही राजनीतिक दल से भी जुड़े, लेकिन उन्होंने सदैव निष्पक्ष तरीके से बात की और अपने काम को पूरी तन्मयता के साथ किया। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम के हकों की लड़ाई के लिए वे वर्षों से मैदान में थे। उन्हें यहां की प्रशासनिक व्यवस्था को गहरा ज्ञान था। वे हर कार्य को बेहद ही बारीकी के साथ सोचते, समझते।

बतौर पार्षद उन्होंने नगर निगम सदन की सामान्य बैठक में सदा अधिकारियों के भ्रष्टाचार की पोल खोली। आंकड़ों की जादूगरी नगर निगम किस तरह से करता है, यह सब बातें विस्तार के साथ आरएस राठी ने सदैव जनता के समक्ष रखा। कोरोना महामारी के चलते उनका निधन हो गया। यह दुखद है। उनके चले जाने से गुरुग्राम ने एक जुझारू और जनता की आवाज उठाने वाला और प्रशासन-सरकार को जगाने वाला व्यक्ति खो दिया। सारा गुरुग्राम शहर उनके निधन से शोकमय है। अभय जैन ने गुरुग्राम की जनता से यह भी अपील की है कि अपने हकों, अपनी लड़ाई के लिए खड़े हों। जनता में बहुत से आरएस राठी हैं, जो कि मजबूती के साथ काम करते हुए भ्रष्टाचार को उजागर कर सकते हैं। उन्हें आगे आना चाहिए, ताकि जनता का भला हो सके।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here