‘कृपया ध्यान दें, हमारे बीच राक्षस भी हैं’, रेमडेसिवीर की कालाबजारी पर भड़के आर. माधवन

0
1


आर. माधवन सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं. फाइल फोटो

कोरोना वायरस (Coronavirus) की इस संकट में दवाईयों और ऑक्सीजन की खूब कालाबजारी हो रही है. बॉलीवुड एक्टर आर. माधवन (R Madhavan) ने ऐसे ही लोगों से बचने के लिए अपने फैंस से गुहार लगाई है.

मुंबई. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने हाहाकार मचा रखा है. रोज मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. लगातार कोरोना के बढ़ते आंकड़े अब डरा रहे हैं. देश जहां सबसे बड़ी महामारी से जूझ रहा है, वहीं इस संकट की घड़ी में कुछ ऐसे भी लोग हैं जो मरीजों की जान बचाने की जगह दवाईयों की कालाबजारी कर रहे हैं. ऐसे ही लोगों के खिलाफ बॉलीवुड एक्टर आर. माधवन (R Madhavan) का गुस्सा फूटा है. सोशल मीडिया पर उन्होंने ऐसे लोगों को राक्षस बताया है. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने मानों लोगों का लाचार बचा दिया है. अस्पताल में बेड, रेमडेसिवीर इंजेक्शन और ऑक्सीजन सिलेंडर तक लोग सोशल मीडिया के जरिए मदद मांग रहे हैं. इस संकट में दवाईयों और ऑक्सीजन की खूब कालाबजारी हो रही है. बॉलीवुड एक्टर आर. माधवन (R Madhavan) ने ऐसे ही लोगों से बचने के लिए अपने फैंस से गुहार लगाई है. आर. माधवन ने ट्विटर पर पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने लिखा- ‘मुझे भी यह प्राप्त हुआ. कृपया ध्यान रखें. हमारे बीच ऐसे राक्षस भी हैं’. पोस्ट को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है- ‘फ्रॉड एलर्ट, लोग सचेत रहें. मिस्टर अजय अग्रवाल 3 हजार रुपये में रेमडेसिवीर दवा बेच रहे हैं. यह आपसे IMPS के जरिए पैसे एडवांस में मांगेंगे ताकि वह पैन इंडिया के जरिए 3 घंटे में आप तक डिलीवर हो जाए और फिर बाद में वह फोन नहीं उठाएंगे. ऐसे जालसाजों से सावधान रहे. यह आदमी फ्रॉड है. R Madhavan, R Madhavan Angry, R Madhavan warning fans, R Madhavan warning fans against people who Black marketing Remdesivir, Remdesivir Injection, R Madhavan says devils to people who Black marketing Remdesivir, आर. माधवन, आर. माधवन लोगों पर भड़के
देश में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है. शनिवार को एक दिन में पहली बार 4 लाख से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं एक बार फिर 3000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई. इनमें सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 62,919 नए केस सामने आए और 828 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई. वहीं इसके बाद कर्नाटक में 48,296, केरल में 37,199, उत्तर प्रदेश में 34,626 और राजधानी दिल्ली में 27,047 नए मामले दर्ज किए गए. स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया था कि नए मामलों में 73.05 प्रतिशत केस महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और राजस्थान से सामने आ रहे हैं.







Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here