किसान आंदोलन: सात माह पूरे होने पर मनाया संविधान बचाओ दिवस; राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा, सरकार की तानाशाही पर रोष

0
7


पलवल4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पलवल। धरना स्थल पर संबोधित करते किसान नेता।

किसान आंदोलन के सात माह पूरे होने पर भी सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानी हैं। इसके विरोध में शनिवार को किसानों ने संविधान बचाओ, खेती बचाओ व लोकतंत्र बचाओ दिवस मनाकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। आंदोलन की अध्यक्षता दलित किसान नेता बीधू सिंह ने की।

नेशनल हाईवे पर अंटोहा चौक पर चल रहे किसान आंदोलन के सात माह पूरे होने पर किसानों ने सरकार के तानाशाही रवैए के खिलाफ रोष प्रकट किया। किसानों ने कहा पूंजीपतियों की सरकार किसानों के साथ अन्याय कर रही है। आंदोलनकारी किसान प्रदर्शन करते हुए लघु सचिवालय पहुंचे और नायब तहसीलदार को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। इसमें कृषि कानूनों को रद्द करने व एमएसपी पर कानून बनाने की मांग की गई है। किसान नेता मास्टर महेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि आंदोलनकारी किसान सरकार से हर कीमत पर अपना हक लेकर रहेंगे। चाहे आंदोलन कितना लंबा चले। अब किसानों को यह पता चल चुका है कि सरकार हर कीमत पर किसानों के इस आंदोलन को षडयंत्र के तहत समाप्त कराना चाहती है, लेकिन किसानों का आंदोलन तब तक समाप्त नहीं होगा जब तक सरकार तीनों कृषि कानूनों को रद्द नहीं कर देती और एमएसपी पर कानून नहीं बना देती।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here