किसान आंदोलनः त्रिपुरा CM बिप्लव देब बोले- कम्युनिस्टों के झांसे में ना आएं किसान

0
1


बिप्लव देब ने कहा, ‘2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने त्रिपुरा के किसानों को आजादी दिलाई. ANI


त्रिपुरा के मुख्यमंत्री (Biplab Kumar Deb) ने दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों से उत्तर-पूर्व राज्य के दौरे पर आने की अपील करते हुए कहा कि कम्युनिस्ट नेता किसानों को पार्टी काडर में तब्दील करने की कोशिश करेंगे.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 13, 2020, 11:48 PM IST

नई दिल्ली. त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब (Biplab Kumar Deb) ने रविवार को कृषि कानून (Farming Laws) पर प्रदर्शन कर रहे आंदोलनकारी किसानों से कम्युनिस्टों के झांसे में ना आने की अपील की. उन्होंने कहा कि माओवादी पहले ही किसानों के बीच जगह बना चुके हैं और वे किसानों को अपने पार्टी काडर में तब्दील करने की कोशिश करेंगे. बिप्लव देब ने दावा किया कि कम्युनिस्टों ने उनके राज्य त्रिपुरा में किसानों के साथ ऐसा ही किया. उन्होंने कहा, ‘2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने त्रिपुरा के किसानों को आजादी दिलाई और मौजूदा वक्त में राज्य के किसान अपनी आय दोगुनी करने की तरफ बढ़ रहे हैं. वे खुद आत्मनिर्भर हो रहे हैं. मैं दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे किसानों से अपील करूंगा कि वे त्रिपुरा का दौरा करें और किसानों से बात कम्युनिस्टों की असली हकीकत से रूबरू हों.’

बता दें कि दिल्ली में केंद्र के कृषि कानून के मसले पर पिछले महीने के आखिर से ही प्रदर्शन जारी है. सरकार और किसानों के बीच 6 दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन मामला अभी तक सुलझा नहीं है. किसानों ने बीते दिनों प्रदर्शन को और तेज करने का ऐलान किया था. उधर, केंद्रीय वाणिज्य राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने कहा कि किसान यूनियन के नेताओं को नक्सली नहीं कहा जा रहा है, लेकिन कुछ अराजक तत्व किसान आंदोलन की आड़ में माहौल खराब करने की कोशिश में लगे हैं. सोमप्रकाश केंद्र के उन नेताओं की तीन सदस्यीय समिति का हिस्सा हैं, जो किसानों के साथ बातचीत करके आपसी सहमति बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

उधर, केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के प्रदर्शन के बीच केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और सोमप्रकाश ने रविवार को गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात की. दूसरी ओर किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने प्रदर्शन में गलत लोगों के शामिल होने की आशंका पर सतर्क रहने की बात कही है. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा, ‘हमें नजर रखनी होगी कि हमारे बीच गलत लोग न आ जाएं. हमारे सभी युवाओं को सतर्क रहना होगा.’ अगर सरकार बात करना चाहती है, तो हम एक समिति गठित करेंगे और आगे के फैसले लेंगे.

गृह मंत्री अमित शाह के साथ इस मुलाकात में केंद्रीय मंत्रियों के साथ पंजाब के भारतीय जनता पार्टी के नेता भी शामिल थे. एक अधिकारी ने बताया कि तोमर और सोमप्रकाश ने गृह मंत्री से मुलाकात की. हालांकि, अभी तक यह अभी पता नहीं चल सका है कि बैठक में क्या बातचीत हुई.





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here